Rape की सजा वाले वायरल मैसेज का सच...

नई दिल्ली (20 जुलाई): इन दिनों सोशल मीडिया पर एक ऐसा मैसेज वायरल हो रहा है, जिसमें दुनिया के कई देशों में रेप की सजा के बारे में बताया गया है। इसमें बताया गया है कि दुनिया में रेप करने वाले मुजर‍िम को कैसे और कितनी सजा का प्रावधान है।

वाट्सएप पर वायरल हो रहे इस मैसेज में बताया गया है:

अमेरिका: पीड़िता की उम्र और क्रूरता को देखकर उम्रकैद या 30 साल की सजा दी जाती है। रूस: 20 साल की कठोर सजा। चीन: No Trial, मेडिकल जांच मे प्रमाणित होने के बाद मृत्यु दंड। पोलेंड: सुवरो से कटवा कर मौत। इराक: पत्थरो से मारकर हत्या। ईरान: 24 घंटे के अंदर पत्थरो से मार दिया जाता है या फांसी। दक्षिण अफ्रीका: 20 साल की जेल। सऊदी अरब: फांसी या यौनांगों को काटने की सजा। मंगोलिया: परिवार द्वारा बदले स्वरुप मृत्यु। नीदरलैंड: यौन अपराधों के लिए अलग-अलग सजा बताई गई है। कतर: हाथ, पैर और यौनांग काटकर, पत्थर मारकर हत्या। अफ़गिनिस्तान: 4 दिनों भीतर सिर में गोली मार दी जाती है। मलेशिया: मृत्यु दंड। कुवैत: सात दिनो के अंदर मौत की सजा। भारत: प्रदर्शन, धरना, जांच आयोग, समझौता, रिश्वत, लड़की की आलोचना, मिडिया ट्रायल, राजनीतिकरन, जातिकरन, जमानत, सालों बाद चार्जशिट, सालों तक मुकदमा, अपमान एवं जिल्लत और अंत में दोषी का बच निकलना।

लेकिन न्यूज 24 आपको बताता है कि यह वायरल मैसेज कितना सच हैं और दुनिया के इन देशों में रेप करने पर किस तरह की सजा का प्रावधान है।

USA- यहां अधिकतम सजा आजीवन कारावास तक का प्रावधान है, कुछ राज्यों में बच्चों से रेप की सजा दवाईयों से नपुंसक बनाना। Russia- यहां पीड़िता की उम्र को ही देखकर दोषी को 20 साल की कठोर सजा देने का प्रावधान है। China: यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। Poland: यहां अधिकतम सजा 12 साल, बच्चों से रेप की सजा दवाईयों से नपुंसक बनाना। Iraq: यहां अधिकतम सजा आजीवन कारावास, बच्चों से रेप की सजा मौत। Iran:  यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। Saudi Arabia:  यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। Afghanistan: यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। Magnolia- यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। Malaysia: यहां अधिकतम सजा 30 साल है। Qatar: यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। Kuwait: यहां अधिकतम सजा मौत की सजा है। भारत: अधिकम सजा उम्रकैद और कम से कम सजा 10 साल है। यह अपराध की क्रूरता पर निर्भर करती है। कानून में 2013 में संशोधन किया गया था।