रूस मदद करेगा तो हटा सकता हूं प्रतिबंध: डोनाल्ड ट्रंप

नई दिल्ली ( 15 जनवरी ):  अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पद संभालने से पहले ही रूस के साथ संबंधों को सुधारने के संकेत देने शुरू कर दिए हैं। ट्रंप ने कहा है अगर मॉस्को मददगार साबित हुआ तो वह उस पर लगे प्रतिबंधों को हटा सकते हैं। ट्रंप ने यह भी कहा कि अगर चीन अपनी मुद्रा और व्यापार नीतियों में सुधार नहीं करेगा तो वह वन चाइना पॉलिसी को बरकरार नहीं रखेंगे।

ट्रंप ने 'द वॉल स्ट्रीट जर्नल' में शुक्रवार को प्रकाशित एक इंटरव्यू में कहा कि वह अमेरिकी चुनाव को प्रभावित करने के लिए मॉस्को के कथित साइबर हमलों को लेकर पिछले महीने रूस पर अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के प्रशासन द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों को कम से कम कुछ समय के लिए बरकरार रखेंगे। उन्होंने कहा, ' अगर रूस हिंसक अतिवाद से निपटने जैसे अहम लक्ष्यों को हासिल करने में अमेरिका की मदद करता है तो वह दंडात्मक कदमों को हटा भी सकते है।'

पुतिन से मिलने को तैयार हैं ट्रंप

ट्रंप ने कहा कि वह 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद संभालने के बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात करने को तैयार हैं। ट्रंप ने पुतिन की तारीफ की और अनिच्छा से अमेरिकी खुफिया विभाग की उस रिपोर्ट को स्वीकार किया जिसमें कहा गया था कि रूसी हैकर्स ने पुतिन के आदेश पर अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप किया।