US: ट्रंप बने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, मैजिक नंबर तक पहुंचे

नई दिल्ली(27 मई): डोनाल्ड ट्रंप अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की उम्मीदवारी हासिल करने के लिए जरूरी 1237 डेलीगेटों के जादुई आंकड़ें तक पहुंच गए और इस प्रकार वह नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की उम्मीदवारी के एकमात्र दावेदार बन गए हैं। राज्यवार डेलीगेटों की गैर सरकारी गिनती करने वाली रियल क्लियर पॉलिटिक्स डाट काम ने गुरुवार को कहा कि ट्रंप के पास अब 1238 डेलीगेटों का समर्थन हासिल है जो नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की उम्मीदवारी के लिए 1237 डेलीगेटों का समर्थन हासिल करने की संख्या से एक अधिक है।

करीब साल भर पहले राजनीति में कदम रखने वाले 69 साल के ट्रंप व्हाइट हाउस की दौड़ में अकेले रिपब्लिकन बचे हैं जिसमें शुरुआती दौर में 17 उम्मीदवार मैदान में थे। अरबपति कारोबारी ट्रंप को जुलाई में क्लीवलैंड में चार वर्ष में एक बार होने वाले सम्मेलन में आधिकारिक रूप से जीओपी राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार नामित किया जाएगा। ट्रंप ने पिछले दिनों अपने विवादास्पद भाषणों के जरिए मीडिया की जमकर सुखिर्यां बटोरी जिनमें उन्होंने मैक्सिको वासियों को ‘बलात्कारी’ कहा, अमेरिका और मैक्सिको के बीच दीवार बनाने की बात कही और मुस्लिम प्रवासियों पर अस्थायी प्रतिबंध लगाने तक का बयान दे डाला।ट्रंप और उनकी संभावित डेमोकेट्र प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन के बीच मुकाबला होता साफ साफ दिख रहा है क्योंकि अधिकांश ताजा राष्ट्रीय सर्वेक्षणों में उनके बीच अंतिम मुकाबला होने की बात कही जा रही है। हिलेरी को अभी नामांकन हासिल करना बाकी है। उन्हें वरमोंट के सीनेटर बर्नी की ओर से कड़े विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच डेमोकेट्रिक पार्टी ने ट्रंप को अमेरिका का राष्ट्रपति बनने से रोकने के लिए ‘स्टॉप ट्रंप फंड’ शुरू करने का ऐलान किया।

डेलिगेट्स के जादुई आंकड़े को साथ लेकर रिपब्लिकन पार्टी के नेता डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया कि उन्हें अपनी पार्टी में लगभग सभी का समर्थन प्राप्त है। उन्होंने अपना ध्यान डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से संभावित प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन की ओर लगाया है। हिलेरी को अभी भी डेलिगेट्स का जादुई आंकड़ा नहीं मिला है। ‘एपी’ की गिनती के अनुसार, नॉर्थ डकोटा प्रचार अभियान बंद होने से पहले ही न्यूयॉर्क के अरबपति ट्रंप ने जीओपी नामांकन हेतु अनिवार्य डेलिगेट्स की संख्या हासिल कर ली थी।

ट्रंप ने कहा कि यहां मैं हिलेरी को लड़ते हुए देख रहा हूं, वह अभी मामला बंद नहीं कर सकतीं। उन्होंने कहा कि हमें लगभग सभी की ओर से भारी समर्थन मिल रहा है। ट्रंप को यह खुशखबरी अपने चुनाव प्रचार में लगातार हो रही दिक्कतों के कारण देरी से मिली है। प्रचार के दौरान ट्रंप के राजनीतिक निदेशक ने उनका साथ छोड़ दिया, साथ ही रिपब्लिकन पार्टी के कई नेताओं ने अपना समर्थन घोषित करने में देरी की थी।