ट्रंप ने मुसलमानों पर बैन की बात हटाई, फिर वेबसाइट पर लगाई

वाशिंगटन (11 नवंबर): अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की जिस एक बात ने सबसे ज्यादा विवाद पैदा किया वह थी देश में मुस्लिमों के प्रवेश को रोकने की घोषणा। प्रबल विरोध के बावजूद ट्रंप ने इस घोषणा को वापस नहीं लिया था। नवनिर्वाचित अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अमेरिका में मुसलमानों की एंट्री पर बैन वाली बात पर कायम हैं।

 गुरुवार को कुछ देर के लिए उनकी वेबसाइट से ये बात गायब हो गई थी, लेकिन इसे फिर से वेबसाइट पर पोस्ट कर दिया गया है। गुरुवार को मुसलमानों पर बैन से संबंधित उनका प्रचार उनकी वेबसाइट से गायब मिला। पत्रकारों ने जब इस बारे में ट्रंप के अभियान कर्ताओं से पूछा तो उन्होंने सफाई दी कि तकनीकी कारणों से यह संकल्प हट गया है, जल्द ही उसे फिर से पोस्ट कर दिया जाएगा। शुक्रवार को यह फिर से वेबसाइट पर दिखाई देने लगा। यह संकल्प दिसंबर 2015 में कैलीफोर्निया के सेन बर्नार्डीनो में हुए आतंकी हमले के बाद पोस्ट किया गया था।

इससे पहले ट्रंप ने जनसभाओं में यह बात कही थी और विरोध होने पर उस पर कोई सफाई नहीं दी थी। इसके बाद दुनिया भर में ट्रंप का विरोध हुआ और अमेरिका में वोटों का ध्रुवीकरण हुआ। हालांकि 9 नवंबर को चुनाव जीतने के बाद ट्रंप ने कहा कि वह समर्थकों को ही नहीं, विरोधियों को भी साथ लेकर अमेरिका को आगे बढ़ाएंगे।