पाकिस्तान में आतंकी अड्डों पर और हमला करेगा अमेरिका

नई दिल्ली (20 जून): अफगानिस्तान को लेकर अमेरिका अब अपनी नई रणनीति पर विचार कर रहा है। साथ ही अमेरिका अब पाकिस्तान के साथ सख्ती दिखाने के मूड में है। खबरों के मुताबिक ट्रंप प्रशासन पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठनों को खत्म करने के लिए इस्लामाबाद के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने के लिए तैयार है।अफगानिस्तान में लगातार हो रहे आतंकी हमलों को ध्यान में रखते हुए अमेरिकी अधिकारियों ने इस बात के संकेत दिए हैं कि आतंक के खिलाफ इस तरह की कार्रवाई की जा सकती है।मीडिया रिपोर्ट में नाम न बताने की शर्त पर अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि ट्रंप प्रशासन पाक स्थित आतंकी अड्डों पर अमेरिकी ड्रोन हमलों के दायरे को बढ़ाने के साथ ही पाकिस्तान को दी जाने वाली मदद को रोकने और एक गैर नाटो सदस्य के रूप में उसके दर्जे को कम करने जैसे विकल्पों पर चर्चा कर रहा है।हालांकि कुछ अधिकार सरकार के इन कदमों के सफल होने को लेकर आशंकित हैं। उनका कहा है कि इससे पहले भी सालों से की जा रही कोशिशें असफल रहीं हैं साथ ही अमेरिका ने भारत से अपने संबंधों को प्रगाढ़ किया है जिसे पाकिस्तान अपना दुश्मन मानता है। अमेरिकी अधिकारी अधिकारी मानते हैं कि अमेरिका पाकिस्तान से बेहतर सहयोग की उम्मीद करता है, न कि संबंध तोड़ना।ट्रंप प्रशासन 16 साल से अफगानिस्तान में चले आ रहे युद्ध पर अपनी नीति की समीक्षा कर रहा है। इस मामले में व्हाइट हाउस और पेंटागन ने अब तक कोई बयान नहीं दिया है।हालांकि इस बीच पेंटागन प्रवक्ता एडम स्टंप ने एक बयान में कहा है कि अमेरिका और पाकिस्तान राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर साथ हैं। लेकिन जो चर्चा है वो अकेले ही पाकिस्तान में आतंकियों के सुरक्षित अड्डों पर अधिक सकारात्मक कोशिश की तरफ इशारा करती है।