ट्रंप ने माना- रूस ने करवाई हैकिंग, दे सकते हैं कार्रवाई के निर्देश

नई दिल्ली (8 जनवरी):  व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टाफ बनने जा रहे रेंस प्रीबस ने कहा है कि अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप हैकिंग पर खुफिया विभाग के निष्कर्ष को स्वीकार करते हैं कि रूस ने चुनाव के दौरान साइबर हमले किए और इसके जवाब में कार्रवाई की की जा सकती है।रिपब्लिकन नैशनल कमिटी के पूर्व चेयरमैन प्रीबस ने कहा, 'ट्रंप जानते हैं कि डेमोक्रैटिक पार्टी संगठनों में घुसपैठ के पीछे मॉस्को था।' प्रीबस का यह बयान इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि ट्रंप कई बार इस दावे को ठुकरा चुके हैं कि रूस चुनाव में उनकी मदद कर रहा था। उन्होंने तर्क दिया कि यह राजनीतिक विरोधी जीत को कमतर करने के लिए ऐसा आरोप लगा रहे हैं। यह पहली बार है जब ट्रंप टीम के किसी वरिष्ठ सदस्य ने यह स्वीकार किया है कि मॉस्को हैकिंग में शामिल था। प्रीबस ने कहा ट्रंप खुफिया विभागों को यह आदेश देने की सोच रहे हैं कि उन्हें सिफारिशें दी जाएं कि इस मामले में क्या किया जाए? इन सिफारिशों के आधार पर कोई कार्रवाई की जा सकती है।