ठीक से चल नहीं सकते 90 साल के हबीब ने पत्नी को दिया तलाक

अजीत सिंह, गोरखपुर (23 अप्रैल): गोरखपुर में 90 साल के एक बूढ़े ने अपनी बीवी को तलाक दे दिया। बुढापे में लड़खड़ाती जुबान से तीन तलाक बोलकर दिए तलाक के बाद दोनों अलग-अलग रहते हैं और अब साथ रहने की कोई गुंजाइश नहीं है।


जैबुननिसां को 90 साल के हबीब ने तीन बार तलाक कहकर अपनी जिंदगी से निकाल दिया। हबीब चल नहीं सकते, ठीक से बोल नहीं सकते लेकिन लड़खड़ाती जुबान से इन्होंने अपनी बेगम को तीन तलाक कहकर घर से रवाना कर दिया।


अब ये तलाकशुदा महिला की हैसियत से किसी दूसरे घर में रहती है। आसपास के लोगों का कहना है कि अब जैबुननिसां किसी भी कीमत पर 90 साल के शौहर के साथ नहीं रह सकती है। मुस्लिम समाज में तलाक इतना घिनौना शब्द है कि औरतें ये भी जानने और समझने की कोशिश नहीं करती कि इसका इस्तेमाल कब और कैसे हो सकता है। चंद लोगों के कहने पर ये मानकर बैठ जाती है कि तलाक भर कह देने से वो बीवी नहीं रहतीं, जबकि मामला ऐसा नहीं है।


ये तो बस बानगी है। बेवजह तलाक की रिवायतें बढ़ रही है जिससे पूरा मामला गंभीर होता जा रहा है और समाज ने चुप्पी साध रखी है। औरतों के हक में आवाज उठाने के बजाए बगलें हांक रहा है समाज।