Viral Video: किसी इंसान की तरह बह गए ट्रैक्टर ट्रॉली, गली-गली लगी देखने वालों की भीड़

प्री-मानसून की पहली बारिश (Pre-monsoon rain) ने ही टोंक शहर के हालात को उजागर कर दिया है। पानी में अक्सर आपने नावों को तैरते हुए देखा होगा, लेकिन टोंक में हुई मूसलाधार बारिश के चलते दरिया बनी सड़कों पर पानी में तैरती हुई ट्रेक्टर ट्रॉली नजरआई। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने ट्रैक्टर के पानी में बहने का वीडियो बना लिया। यह वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। पानी में बहता हुआ यह ट्रैक्टर करीब 100 मीटर दूरी तक चला गया। पानी की ट्रैक्टर के बहने की यह घटना बीते शनिवार को हुई।

Viral Video: किसी इंसान की तरह बह गए ट्रैक्टर ट्रॉली, गली-गली लगी देखने वालों की भीड़
x

प्री-मानसून की पहली बारिश (Pre-monsoon rain) ने ही टोंक शहर के हालात को उजागर कर दिया है। पानी में अक्सर आपने नावों को तैरते हुए देखा होगा, लेकिन टोंक में हुई मूसलाधार बारिश के चलते दरिया बनी सड़कों पर पानी में तैरती हुई ट्रेक्टर ट्रॉली नजरआई। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने ट्रैक्टर के पानी में बहने का वीडियो बना लिया। यह वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। पानी में बहता हुआ यह ट्रैक्टर करीब 100 मीटर दूरी तक चला गया। पानी की ट्रैक्टर के बहने की यह घटना बीते शनिवार को हुई।



इसी दौरान इलाके से गुज़र रहे एक ट्रैक्टर ट्रॉली सवार की ट्रेक्टर ट्रॉली भी पानी के तेज़ बहाव में अचानक असंतुलित हो गई। इसी बीच पानी के बहाव को बढ़ता देख ट्रेक्टर ट्रॉली चला रहे चालक और उसी ट्रॉली में बैठे लोगों ने ट्रेक्टर ट्रॉली से कूद कर अपनी जान बचा ली।  ट्रैक्टर-ट्रॉली 25-30 दुकान पार करते हुए करीब 100 मीटर बहती रही। बाद में ट्रैक्टर एक दुकान के बाहर अटक गया। बारिश रुकने के बाद लोगों ने ट्रैक्टर-ट्रॉली को वहां से निकलवाया।


दरअसल चालक ट्रैक्टर-ट्रॉली में सीमेंट और निर्माण सामग्री सप्लाई करने का काम करता है। शनिवार को भी वह सप्लाई करने निकला था. वह ट्रॉली को खाली करके आ रहा था। ट्रॉली खाली होने के कारण वह पानी के बहाव में बह गई। बारिश के कारण पुराने टोंक, काली पलटन, सुभाष बाजार, बड़ा कुआ क्षेत्र और गुलजार बाग सहित कई क्षेत्रों में पानी भर गया। इसके चलते लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। 


टोंक में सड़के दरिया बनी वो भी महज आधा घण्टे हुई बारिश के चलते और सड़कों कई मकानों और दुकानों में बारिश का पानी अंदर तक घुस गया। जिसको निकालने के लिए लोग कड़ी मशक्कत करते नज़र आये। बारिश का मौसम होने के बावजूद शहर में करीब 50 नालों की सफाई नहीं हुई है। इन नालों की सफाई के लिए नगरपरिषद ने 25 लाख का टेंडर भी कर रखा है लेकिन अभी सफाई नहीं हुई


Next Story