Vastu Tips: जानिए आपके घर के हिसाब से कौन सा तुलसी का पौधा है शुभ और किस दिन लगाएं

Vastu Tips: हिन्दू धर्म में तुलसी के पौधे (Tulsi Plant) की विशेष महत्व है। तुलसी के पौधे को तुलसी माता (Tulsi Mata) कहकर भी संबोधित किया जाता है। मान्यता के मुताबिक जिस घर में तुलसी का निवास होता है वहां सुख-समृद्धि और खुशहाली भी वास करती है।

Vastu Tips: जानिए आपके घर के हिसाब से कौन सा तुलसी का पौधा है शुभ और किस दिन लगाएं
x

Vastu Tips: हिन्दू धर्म में तुलसी के पौधे (Tulsi Plant) की विशेष महत्व है। तुलसी के पौधे को तुलसी माता (Tulsi Mata) कहकर भी संबोधित किया जाता है। मान्यता के मुताबिक जिस घर में तुलसी का निवास होता है वहां सुख-समृद्धि और खुशहाली भी वास करती है। इस पौधे को काफी कल्याणकारी और स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है। हिन्दू धर्म के अनुसार तुलसी के पौधे को रोजाना जल अर्पण करने से दैवीय कृपा बनी रहती है और वैकुण्ठ की प्राप्ति होती है। मान्यता के मुताबिक तुलसी माता को इंसान का उद्धार करने के लिए ही धरती पर भेजा गया है।


भगवान विष्णु को अत्यंत प्रिय है तुलसी

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार तुलसी भगवान विष्णु को अत्यंत प्रिय है और तुलसी में लक्ष्मी का वास होता है। जिनके घरों में तुलसी का पौधा होता है उनके उपर भगवान विष्णु की कृपा दृष्टि भी बनी रहती है। तुलसी से घरों में सुख और समृद्धि आती है। वह हर दिन इसकी पूजा करते हैं। सुबह जल चढ़ाते हैं और शाम को दीपक जलाते हैं। कई लोग तुलसी की पूजा और तुलसी विवाह भी संपन्न कराते हैं।






और पढ़िए - Chanakya Niti: पुरुषों को कभी भी अपनी पत्नी को नहीं बतानी चाहिए ये चार बातें





गुरुवार को लगाए तुलसी का पौधा

माना जाता है कि तुलसी के पौधे को घर में कार्तिक मास (अक्तूबर और नवंबर) में लगाना चाहिए। साथ ही गुरुवार के दिन तुलसी के पौधे को लगाने की मान्यता है। कहते हैं गुरुवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित है और इस दिन विष्णु भगवान की पूजा आराधना होती है। मान्यताओं में तुलसी माता को विष्णु भगवान की प्रिय माना गया है, इसलिए यह दिन तुलसी का पौधा लगाने के लिए शुभ माना जाता है। 


भगवान कृष्ण का स्वरूप माना जाता है तुलसी का पौधा

तुलसी का पौधा बुध का प्रतिनिधित्व करता है, जो भगवान कृष्ण का एक स्वरूप माना गया है। ऐसे में तुलसी के पौधे को लगाने और उसकी पूजा करने के भी कई नियम हैं। जो लोग मांस का सेवन करते हैं उन्हें अपने घर में तुलसी का पौधा नहीं लगाना चाहिए। क्योंकि हिन्दू धर्म में इस तुलसी को परम वैष्णव माना गया है। वहीं भगवान विष्णु की पूजन पद्धति में तामसिक तरीकों का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। 


तुलसी के प्रकार

तुलसी के रंग के आधार पर, दो मुख्य प्रकार हैं, सफेद -राम तुलसी और काले पत्तों वाली तुलसी को श्यामा तुलसी कहा जाता है। वास्तु के अनुसार, रामा और श्यामा दोनों की तुलसी का अपना-अपना महत्व है। आप इन दोनों में से किसी एक को ही घर में रखें। 


रामा तुलसी- हरी पत्तियों वाली तुलसी को रामा तुलसी कहा जाता है। इसे श्री तुलसी, भाग्यशाली तुलसी या उज्ज्वल तुलसी भी कहा जाता है। इस तुलसी की खासियत ये हैं कि इसकी पत्तियों को खाने से अन्य तुलसी की तुलना में मीठा होगा। इस तुलसी का इस्तेमाल पूजा-पाठ में किया जाता है। इसके साथ ही इसे घर में लगाने से सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।


श्यामा तुलसी- गहरे हरे या बैंगनी रंग के पत्तियों और बैंगनी तने वाली तुलसी को श्यामा तुलसी कहा जाता है। इसे गहरी तुलसी या कृष्ण-तुलसी के नाम से भी जाना जाता है। क्योंकि ये तुलसी भगवान कृष्ण से समर्पित है। क्योंकि इसका बैंगनी रंग भगवान कृष्ण के गहरे रंग के समान है। यह तुलसी आयुर्वेद में अच्छा माना जाता है।


आयुर्वेद के अनुसार, रामा तुलसी और श्यामा तुलसी के गुणों में काफी अंतर है। सेहत के लिहाज से श्यामा तुलसी को ज्यादा बेहतर माना जाता है। वहीं रामा तुलसी जोकि एकदम कंचन हरी दिखाई देती है का इस्तेमाल मसालेदार और कड़वी, गर्म, सौम्य, पाचन, पसीना और बच्चों की सर्दी-खांसी की बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है। जबकि श्यामा तुलसी मसालेदार और कड़वी, मुलायम, चिकनी, पचने में हल्की, शोषक और वात-पित्त में लाभदायक होती है। तुलसी कफ, वायरल इन्फेक्शन, पित्ताशय की थैली, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल, हृदय, एनीमिक और कुष्ठ जैसे रोगों मरण भी फायदेमंद है। 


वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में कहां लगाएं तुलसी का पौधा ?

धार्मिक मान्यता के साथ-साथ वास्तु शास्त्र में तुलसी की दशा और दिशा का बहुत ही महत्व है। लेकिन, तुलसी के पौधे को सही देखभाल की बेहद जरूरत होती है नहीं तो ये पौधा मुरझाने में ज्यादा वक्त नहीं लेता और मान्यतानुसार तुलसी माता के रुष्ट होने की संभावना बढ़ जाती है।





और पढ़िए - Chanakya Niti: कामुकता के अलावा इन 3 चीजों में पुरुषों से हमेशा आगे रहती हैं महिलाएं






- तुलसी पौधे के लिए सबसे अच्छी जगह पूर्व में है, आप इसे बालकनी में या खिड़की के पास उत्तर या उत्तर-पूर्व दिशा में भी रख सकते हैं।

- सुनिश्चित करें कि पौधे के पास पर्याप्त धूप उपलब्ध हो।

- पौधे को हमेशा विषम संख्या में रखें जैसे एक, तीन या पांच।

- पौधे के आसपास झाड़ू, जूते या कूड़ेदान जैसी चीजें न रखें।

- सुनिश्चित करें कि पौधे के आसपास की जगह साफ-सुथरी हो।

- फूल वाले पौधों को हमेशा तुलसी के पौधे के पास ही लगाएं।

- घर में सूखा तुलसी का पौधा रखने से बचें क्योंकि यह नकारात्मक ऊर्जा को आकर्षित करता है।









और पढ़िए - आज का राशिफल यहाँ पढ़ें





Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story