रेलवे ने बदला ट्रेनों में सोने का समय, अब एक घंटा कम सो सकेंगे रेल यात्री

नई दिल्ली (17 सितंबर): अगर आप ट्रेन में सफर करते हैं तो ये खबर आपके लिए काफी महत्वपूर्ण है। रेलवे बोर्ड ने ट्रेन में सोने के नियम में बड़ा बदलाव किया है। अब ट्रेन में लोअर-मिडल रिजर्व बर्थ वाले रात 10 से सुबह 6 बजे तक ही सो सकेंगे। अभी तक रात 9 बजे तक ही लोअर बर्थ बैठने के लिए होती थी और फिर उसके बाद सोने के लिए होती थी। ऐसे 1 घंटे कम हो जाएगी आपकी नींद। अगर लोअर बर्थ पर यात्री बैठे हैं तो आप सो नहीं सकते हैं और अब नए नियम के अनुसार आप 10 बजे से पहले सो नहीं सकेंगे। हालांकि रेलवे ने कहा है कि अगर कोई गर्भवती, दिव्यांग या फिर कोई बीमार यात्री हो तो उसे सहयात्री जल्दी सोने की सुविधा दें।

मिडिल बर्थ पर आराम करने वाले यात्री के कारण लोअर और अपर के यात्रियों को दिक्कत होती है। उन्हें नीचे बैठने का मौका नहीं मिल पाता है। यही वजह है कि अब सुबह ही मिडिल बर्थ वाले को अपनी सीट छोड़कर नीचे बैठना होगा। इसके साथ ही साइड लोअर बर्थ पर सफर करने वाले यात्री को साइड अपर के यात्री को दिन में नीचे बैठने की जगह देनी होगी। ऐसा तब भी होगा जब लोअर बर्थ में आरएसी वाले दो यात्री पहले से सफर कर रहे हैं। हालांकि अपर बर्थ का यात्री रात 10 से सुबह छह बजे तक लोअर बर्थ का दावा नहीं कर सकेगा।