टॉपर्स घोटाले से भी बड़ा है बिहार का BSSC का घोटाला

सौरभ कुमार, पटना (8 फरवरी): बीएसएससी परीक्षा प्रश्न पत्र लीक मामले में आयोग के सचिव परमेश्वर राम और पांच अन्य कर्मचारियों को हिरासत में लिया गया है। सचिव के घर छापेमारी में साक्ष्य मिलने से बाद उन्हें हिरासत में लिया गया है।

अगमकुआं थाने के भागवत नगर स्थित सचिव के आवास पर करीब 5 घंटे की छापेमारी में एसआईटी के हाथ कई महत्वपूर्ण कागजात हाथ लगे हैं। एसआईटी के साथ साथ ईओयू की टीम भी सचिव के दफ्तर और आवास पर छापेमारी की। परमेश्वर राम के घर से कॉल लेटर और अटैंडेंस शीट भी बरामद किए गए हैं।

जांच टीम को सचिव के आवास से दो फ्लैट और कई जगह पर जमीन के कागजात मिले हैं। ऐसी संभावना है कि सचिव के पास अकूत संपत्ति हैं। अब ऐसी चर्चा है कि इंटर टॉपर घोटाले की तरह बीएसएससी में बड़ा परीक्षा घोटाला हुआ हैं। इसमें कई लोग जांच के लपेटे में आ सकते हैं। इस संबंध में आज बड़ा खुलासा हो सकता है।

उधर, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि पिछले दो-तीन दिनों से बिहार कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा में गड़बड़ी अखबारों में हेडलाइन बन रही है। सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है। इस मामले में जो भी दोषी होगा, बख्शा नहीं जाएगा। पूरे मामले की जांच की जिम्मेदारी मुख्य सचिव और डीजीपी को सौंपी गई है।