पाकिस्तान के सामने सबूत पेश करना बुजदिली : रामदेव

नई दिल्ली (9 जनवरी) : योगगुरु रामदेव ने पठानकोट हमले के संदर्भ में कहा है कि भारत का पाकिस्तान के सामने सबूत पेश करना बुजदिली होगा। रामदेव के मुताबिक पाकिस्तान को भारत की ओर से ऐसा सबक सिखाया जाना चाहिए कि वो सबूत मांगना भूल जाए।

रामदेव ने कहा कि भारत एक ताकतवर देश है इसलिए हमें पाकिस्तान के आतंकवाद संबंधी मामलों को लेकर हमलावर होना चाहिए। रामदेव ने सवाल के लहजे में कहा कि वहां जो आतंकवादियों के ट्रेनिंग कैंप चलते हैं, वहां जाकर उन्हें ध्वस्त करने में क्या दिक्कत है।

बता दें कि रामदेव ने कुछ अर्सा पहले जब सीमा पर बने लोंगेवाला मंदिर जाकर जवानों से मुलाकात की थी तब उन्होंने कहा था कि उनका और जवानों का काम एक ही है। सिर्फ ड्रेस कोड अलग है। उन्होंने कहा था कि सीमा के जवान देश की रक्षा करते हैं और हम योग के माध्यम से देशवासियों को निरोगी बनाने में जुटे हुए हैं। रामदेव ने लोंगेवाला को तीर्थ का दर्जा दिया था। गौरतलब है कि इस मंदिर पर 1971 के युद्ध में पाकिस्तान ने अंधाधुंध बम गिराए थे लेकिन उसमें से एक भी नहीं फटा था।