पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ा 'तितली' तूफान, बिहार में भी दिख सकता है असर

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 अक्टूबर): चक्रवाती तूफान तितली ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है। ओडिशा और आंध्रप्रदेश के तटवर्तीय इलाकों में चक्रवाती तूफान तितली ने अब भयंकर रूप धारण कर लिया है। यहां चक्रवाती तूफान तितली 140-150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रही है। अभी इसकी तीव्रता और बढ़ने के आसार जताए जा रहे हैं। ओडिशा के ज्यादातर हिस्सों में तेज हवा के साथ बारिश हो रही है।
 की आशंका जताई है।

ताजा अपडेट...
- आंध्र प्रदेश में 'तितली' तूफान की वजह से 2 लोगों की मौत



- पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ा 'तितली' तूफान, बिहार में भी दिख सकता है असर

- ओडिशा पहुंचा तितली तूफान, 140-150 किलोमीटर/घंटे की रफ्तार से चल रही हवाएं

- ओडिशा में आज बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज
ओडिशा के तटीय इलाकों में इस वक्त 140 से 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। तूफान के कारण गोपालपुर और बेरहामपुर में कई पेड़ उखड़ गए हैं और लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। तूफान का सामना करने के लिए प्रशासन ने कड़ी तैयारी की है, इसके नुकसान से बचने के लिए अलग-अलग जिलों में एनडीआरएफ 18 टीमें तैनात की गई हैं। गंजाम के गोपालपुर के पास तितली चक्रवात के कारण सुबह 5 बजकर 30 मिनट पर भूस्खलन हुआ। निचले इलाकों में रहने वाले 10,000 लोगों को बुधवार रात ही सरकारी आश्रय में भेज दिया गया है।