ISIS की मदद से तिहाड़ से भागने की फिराक में आतंकी भटकल, बढाई गई सुरक्षा

नई दिल्ली(3 फरवरी): आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी यासीन भटकल को तिहाड़ जेल में शिफ्ट किए जाने के बाद से तिहाड़ जेल की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

- खुफिया जानकारी के मुताबिक, इंडियन मुजाहिदीन का सह-संस्थापक यासीन भटकल आतंकी संगठन ISIS की मदद से जेल से भाग निकलने की फिराक में है।

- 2013 के हैदराबाद बम ब्लास्ट केस में यासीन भटकल समेत 4 लोगों को हैदराबाद कोर्ट ने दिसंबर में मौत की सजा सुनाई थी।

- साल 2015 की शुरुआत में सुरक्षा एजेंसियों ने यासीन भटकल की अपनी पत्नी को की गई एक कॉल को इंटरसेप्ट किया था।

- अपनी पत्नी के साथ बातचीत में यासीन ने सीरिया से मदद के सहारे जेल से बाहर आने की बात कही थी।

- जानकारी के मुताबिक, भटकल को जेल नंबर 1 में रखा गया है। मौत की सजा पाने के कारण यासीन भटकल को एकान्त कारावास में रखा गया है। जेल के बाहर गार्ड्स और सीसीटीवी कैमरे मौजूद हैं जो 24 घंटे उस पर नजर बनाए हुए हैं।

   

- पांच मिनट की बातचीत में यासीन को अपनी पत्नी जहीदा से कहते हुए सुना गया, 'दमिष्क से लोग मदद कर रहे हैं, मैं जल्द ही रिहा हो जाऊंगा।' उसने अपनी पत्नी को 27 कॉल्स की थीं। आतंकी यासीन की पत्नी साउथ-ईस्ट दिल्ली के जामिया नगर में रहती है। एजेंसियों को यह भी सूचना मिली है कि इंडियन मुजाहिदीन कमांडर न्यायिक हिरासत के दौरान मिले कुछ आपराधिक तत्वों के भी संपर्क में है।