टाइगर अभी जिंदा है, 11 साल बाद जीता मास्टर्स का खिताब


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 अप्रैल): दुनिया के महान गोल्फ खिलाड़ी टाइगर वुड्स ने इतिहास रच दिया है। 11 साल के बाद वापसी करते हुए टाइगर ने यह कारनामा किया है। रविवार को 83 वें मास्टर्स में टाइगर वुड्स ने शानदार जीत हासिल की, 11 साल के बड़े सूखे को खत्म करते हुए, 43 वर्षीय अमेरिकी सुपरस्टार टाइगर वुड्स ने जो 2017 में रीढ़ की हड्डी के दर्द से परेशान थे, उन्होने 15वीं बार मास्टर्स का खिताब अपने नाम किया। उनकी इस जीत से ना केवल उनका मनोबल बढ़ेगा बल्कि यह जीत उनके आलोचकों के लिए भी एक जवाब हैं। यह 2008 यूएस ओपन के बाद उनका पहला प्रमुख खिताब हैं। वुड्स ने एक ही फाइनल-शॉट में 2.07 मिलियन (1.82 मिलियन यूरो) का शीर्ष पुरस्कार और ग्रीन जैकेट पर अपनी दावेदारी पेश की।
कोप्का की खुशी

"मेरे पास उसके तारीफ के लिेए शब्द नहीं हैं- मुझे यकीन है कि वह बहुत खुश हैं," कोप्का ने कहा। चोटिल वुड्स ने वापस आने के लिए जो मेहनत की , वह बेहद सराहनीय है।"
यह वुड्स के लिए 2005 के मास्टर्स के बाद पांचवां मास्टर्स खिताब था, और वह जैक निकेलस द्वारा जीते गए सर्वकालिन रिकॉर्ड 18 पुरस्कारों से महज़ 3 कदम दूर हैं।

ट्राइंफ वुड्स के लिए पहली बड़ी जीत थी जब उन्होंने 54 छेदों के बाद नेतृत्व नहीं किया वुड्स ने इसके बाद पैरा -5 15 में दो को हरा दिया और 13-अंडर पार में अकेले बढ़त हासिल करने के लिए बर्डी के लिए टैप किया, फिर पैरा -3 16 में चार फुट की बर्ड पुट को डुबो दिया, जिससे उनको दो शॉट का फायदा मिला।
आलोचको को करारा जवाब-
टाइगर वुड्स टैक्स चोरी के वजह से भी आलोचकों के निशाने पर थे। चोट की वजह से उनके फिटनेस पर भी सवाल उठ रहे थे लेकिन उनके फैन्स हमेशा से उनके साथ थे और रविवार को जीत के बाद उनके फैन्स ने खूब जश्न मनाया और इस जीत से उन्होंने अपने आलोचकों को भी जवाब दे दिया हैं।