पंजाब में अब इस फिल्म को लेकर है विवाद, जानिए क्यों?

विशाल अंगरीश, चंडीगढ़ (21 जुलाई) : टाइगर श्रॉफ की अपकमिंग 'ए फ्लाइंग जट्ट' रिलीज से पहले ही विवादों में फंस गई है। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने इस फिल्म में अभिनेता टाइगर श्रॉफ की पगड़ी, ड्रेस और पीठ पर सिक्खों का धार्मिक चिह्न खंडे का निशान दिखाए जाने पर सख्त ऐतराज जताते हुए इसे हटाने की मांग की है। सिक्खों की सबसे बड़ी संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने इस फिल्म को लेकर अपनी आपत्ति दर्ज करवाई है। एसजीपीसी का कहना है कि इस फिल्म में सिक्खों के धर्म प्रतीक खंडे का इस्तेमाल फिल्म के हीरो के कपड़ों पर किया गया है जिससे सिक्खों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई है।

एसजीपीसी का कहना है कि उन्होंने इस फिल्म को लेकर फिल्म की निर्माता कंपनी बालाजी प्रोडक्शन और शोभा कपूर और एकता कपूर को पिछले साल भी चिट्ठी लिखकर अपनी आपत्ति दर्ज करवाई थी लेकिन फिर भी इस फिल्म से इन सीन्स को हटाया नहीं गया और ऐसे में अगर फिल्म के निर्माताओं ने इस आपत्ति को दरकिनार किया और फिल्म को इन सीन्स के साथ ही रिलीज कर दिया तो इस फिल्म का पंजाब में विरोध किया जाएगा।

बता दें फिल्म निर्माता शोभा कपूर और एकता कपूर और सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मनीष देसाई और पहलाज नहलानी को एसजीपीसी के मुख्य सचिव की ओर से 12 नवंबर 2015 को एक पत्र लिखकर ऐतराज जताया गया था। बाद में जत्थेदार अवतार सिंह की ओर से भी बालाजी फिल्म की निर्माता शोभा कपूर और एकता कपूर को 30 दिसंबर 2015 को एक पत्र लिखकर फिल्म से ये सीन हटाने के लिए कहा गया था, लेकिन इस सबके बावजूद फिल्म के निर्माता ने ऐसा नहीं किया।

एसजीपीसी के समर्थन में अकाली दल ने भी साफ कर दिया है कि अगर फिल्म के निर्माताओं ने इन अपत्तियों पर सफाई नहीं दी तो ऐसे में फिल्म का विरोध किया जाएगा। अकाली दल के वरिष्ट नेता और दिल्ली सिक्ख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के जनरल सेक्रेटरी मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि फिल्म के निर्माताओं ने उन्हें इमेल करके इस मामले पर बात करने का वक्त मांगा है और अगर सिक्खों की भावनाओं को नहीं सुना गया तो इस फिल्म को पंजाब में रिलीज नहीं होने दिया जाएगा।