तिब्बत को अर्थपूर्ण स्वायत्तता दे चीन: दलाई लामा


नई दिल्ली(6 अप्रैल): दलाई लामा ने खुद को प्राचीन भारतीय विचारों और मूल्यों का प्रचार करने वाला दूत बताते हुए चीन से तिब्बत को अर्थपूर्ण स्वायत्तता देने की मांग की है।


- दलाई लामा ने बुधवार को कहा, 'हम तिब्बत की आजादी की मांग नहीं कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि चीन तिब्बत को अर्थपूर्ण स्वायत्तता दे। हम चीन के साथ बने रहना चाहते हैं।'


- उन्होंने कहा, 'तिब्बत आर्थिक रूप से पिछड़ा है लेकिन धार्मिक रूप से काफी विकसित है। हम चीन के साथ रहकर इसे आर्थिक रूप से भी मजबूत करना चाहते हैं। यह दोनों पक्षों के लिए बेहतर होगा।'


- दलाई लामा ने कहा, 'चीन में तिब्बती बौद्धों की सबसे ज्यादा आबादी है। कई चीनी बुद्धिजीवी हमारे रुख का समर्थन करते हैं।' तिब्बत में पर्यावरण की दुर्दशा पर चिंतित दलाई लामा ने चीन से आग्रह किया कि वह ग्लोबल वॉर्मिंग के खतरे से बचने के लिए तिब्बत की इकॉलजी पर ध्यान दे। दलाई लामा को 1989 में नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा जा चुका है।