News

भारत को फ्रांस ने अब तक तीन राफेल लड़ाकू विमान सौंपे, बाकी भी जल्दी सौंपे जायेंगे

भारत और फ्रांस ने 36 राफेल विमानों के लिए सितंबर 2016 में लगभग 59,000 करोड़ रुपये के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। पहला राफेल विमान आठ अक्तूबर को भारत को सौंप दिया गया था। चार राफेल विमानों की पहले खेप मई 2020 तक भारत आ जाएगी। ‘विजयादशमी’ और भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस के दिन भारत को विश्व के सबसे शक्तिशाली लड़ाकू विमानों में से एक राफेल विमान मिला था।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 नवंबर): फ्रांस ने भारत को तीन अत्याधुनिक लड़ाकू विमान राफेल सौंप दिया है। इन तीनों विमानों का उपयोग फ्रांस में ही भारतीय वायुसेना के पायलटों और टेक्नीशियंस को ट्रेनिंग देने के लिए किया जाएगा। सरकार की तरफ से भारत को तीन राफेल विमान मिलने की पुष्टि की गई है। रक्षा मामलों के राज्यमंत्री श्रीपद नाइक ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में इस बात की जानकारी दी कि भारतीय वायुसेना को आज की तारीख तक तीन राफेल विमान सौंपे जा चुके हैं। 

उन्होंने बताया कि भारतीय वायुसेना के पायलटों और टेक्नीशियनों को ट्रेनिंग देने के लिए इन विमानों का उपयोग किया जा रहा है। भारतीय वायुसेना के पायलटों को राफेल विमान उड़ाने की फ्रांस में ही ट्रेनिंग दी जा रही है। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद राफेल विमानों की खेप को चरणबद्ध तरीके से भारत लाया जाएगा।

भारत और फ्रांस ने 36 राफेल विमानों के लिए सितंबर 2016 में लगभग 59,000 करोड़ रुपये के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। पहला राफेल विमान आठ अक्तूबर को भारत को सौंप दिया गया था। चार राफेल विमानों की पहले खेप मई 2020 तक भारत आ जाएगी। ‘विजयादशमी’ और भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस के दिन भारत को विश्व के सबसे शक्तिशाली लड़ाकू विमानों में से एक राफेल विमान मिला था। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और वाइस चीफ मार्शल हरजीत सिंह अरोड़ा फ्रांसीसी शहर बॉर्डोक्स पहुंचे थे, जहां ‘हैंडओवर सेरेमनी’ में फ्रांस ने भारत को राफेल विमान सौंपा था।

पहले राफेल का नाम वायुसेना प्रमुख राकेश भदौरिया के नाम पर ‘आरबी-001’ रखा गया है। पहले राफेल को ग्रहण करने के बाद राजनाथ ने कहा था, हमारे पास विश्व की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना है और मेरा मानना है कि राफेल हमें और भी मजबूत बनाएगा। यह क्षेत्र में शांति और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भारत के हवाई प्रभुत्व को तेजी से बढ़ावा देगा। राजनाथ सिंह ने कहा था कि भारत और फ्रांस के बीच 23 सितंबर, 2016 को 36 राफेल विमानों को लेकर करार हुआ था। मुझे खुशी है कि राफेल की डिलीवरी सही समय पर हो रही है। मुझे भरोसा है कि सभी राफेल विमान भारत को समय पर मिल जाएंगे।

(Images Courtesy:Google)


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top