आज शपथ लेंगे कांग्रेस के तीनों नवनिर्वाचित सीएम, दिखेगा महागठबंधन का मेगा शो

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (17 दिसंबर): मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ तीनों राज्यों में आज कांग्रेस के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण करेंगे। तीनों राज्यों में कांग्रेस की जीत के बाद सभी राज्यों में मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला हो चुका है। मध्य प्रदेश में कमलनाथ, छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल और राजस्थान में अशोक गहलोत को संबंधित राज्यों के राज्यपाल शपथ दिलवाएंगे। आज अलग-अलग समय पर इन राज्यों में बीजेपी विरोधी दलों के बड़े नेताओं के बीच सीएम को शपथ दिलवाई जाएगी।

राजस्थान

अशोक गहलोत 17 दिसंबर को यहां पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। उनके साथ उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी शपथ लेंगे। गहलोत ने विधायक दल की बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। जयपुर के ऐतिहासिक अल्बर्ट हॉल में सोमवार सुबह 10 बजे होने वाले इस कार्यक्रम में शपथ दिलाई जाएगी।

अशोक गहलोत तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं। राज्य में तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने वाले वह चौथे नेता हैं। गहलोत से पहले भैंरोसिंह शेखावत और हरिदेव जोशी ही तीन-तीन बार मुख्यमंत्री बने। हालांकि मोहन लाल सुखाड़िया सबसे अधिक 4 बार इस पद पर रहे। राज्य के नए मुख्यमंत्री के रूप कार्यभार संभालने जा रहे गहलोत 1998 में पहली बार मुख्यमंत्री बने थे।  

मध्य प्रदेश

कमलनाथ सोमवार को मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे। वह अकेले शपथ लेगें। प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगी। भोपाल के जम्बूरी मैदान में 17 दिसंबर को डेढ़ बजे होने वाले शपथग्रहण समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित यूपीए के कई दिग्गज नेताओं के मौजूद रहने की संभावना है। समारोह से पहले सर्वधर्म प्रार्थना होगी।

मध्यप्रदेश कांग्रेस मीडिया सेल प्रभारी शोभा ओझा ने बताया, 'कमलनाथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में कल (सोमवार) दोपहर डेढ़ बजे यहां जंबूरी मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।' जब राज्यपाल आनंदीबेन वहां से रवाना हो जाएगी, तो उसके बाद राहुल और कमलनाथ वहां मौजूद लोगों को संबोधित करेंगे। मंत्रिमंडल में शामिल होने की उम्मीद रखने वाले विधायकों को फिलहाल कुछ दिन और इंतजार करना होगा।

शोभा ने बताया कि राहुल गांधी के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी, पुदुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी, और डीएमके अध्यक्ष एम. के. स्टालिन समारोह में मौजूद रहेंगे। जम्बूरी मैदान में शपथ ग्रहण का भव्य समारोह आयोजित करने की पिछले दो दिनों से तैयारियां की जा रही हैं। मालूम हो कि कमलनाथ के पहले बीजेपी के शिवराज सिंह चौहान ने भी इसी मैदान पर तीन बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रमुख भूपेश बघेल ने विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद रविवार को राजभवन जाकर सरकार गठन करने का दावा पेश किया। बघेल सोमवार शाम 4.30 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल 58 वर्षीय बघेल को पद एवं गोपीयता की शपथ दिलाएंगी। सोमवार को सिर्फ मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण करेंगे। बाद में डेप्युटी सीएम और मंत्रियों के नाम तय किए जाएंगे। कांग्रेस पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे ने संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री पद के लिए भूपेश बघेल के नाम की औपचारिक घोषणा की।

खड़गे ने कहा कि बघेल सोमवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता खड़गे ने कहा, ‘बघेल को विधायक दल का नेता चुना गया है। सभी विधायकों ने एक स्वर में कहा है कि राहुल गांधी जिसे चुनेंगे, वही हमारा नेता होगा। सभी से चर्चा के बाद नाम पर आम सहमति बनी। हम सभी को विश्वास है कि भूपेश बघेल सबको साथ लेकर चलेंगे।' उन्होंने कहा कि सोमवार 17 दिसंबर को भूपेश बघेल रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

विपक्ष दिखाएगा ताकत

बताया जा रहा है कि गहलोत शरद पवार, शरद यादव, एम. के. स्टालिन, तेजस्वी यादव, अखिलेश यादव, मायावती, अरविंद केजरीवाल और अन्य विपक्षी नेताओं की उपस्थिति में नए मुख्यमंत्री शपथ लेंगे। पार्टी प्रमुख राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा बनर्जी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, बीएसपी सुप्रीमो मायावती और एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव को कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया है। इसे 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए किया जा रहा शक्ति-प्रदर्शन माना जा रहा है।