'निर्भया' की बरसी पर एक बार फिर शर्मसार हुई देश की राजधानी

नई दिल्ली ( 18 दिसंबर ): 16 दिसंबर 2012 के दिन पूरे देश को निर्भया कांड ने झकझोर रख दिया। लेकिन इसकी बरसी पर भी एक 'निर्भया कांड' दोहराया गया। हैरतअंगेज वारदात राजधानी के शालीमार बाग इलाके की है, जहां पार्क में 16 साल की लड़की से गैंगरेप किया गया। आरोप तीन लड़कों पर हैं। सभी अभी तक फरार हैं।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने विरोध करने पर न सिर्फ लड़की व उसके दोस्त को बुरी तरह पीटा बल्कि खींचकर सुनसान जगह पर ले जाकर उसे बंधक बनाया। सबने बारी-बारी से रेप किया और फरार हो गए। किसी तरह वारदात की जानकारी शालीमार बाग पुलिस को हुई। पीड़ित लड़की को अस्पताल ले जाया गया। जहां उसके बयान पर मारपीट, अगवा करने व गैंगरेप समेत पॉक्सो की धारा में केस दर्ज किया है। पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज की मदद से आरोपियों का सुराग लगाने में जुटी है। 

पुलिस अफसरों के मुताबिक, पीड़िता परिवार के साथ शालीमार बाग के हैदरपुर गांव के पास बनी झुग्गियों में रहती है। उसकी मां और पीड़िता कोठियों में मेड का काम करती हैं। गैंगरेप की वारदात शनिवार देर शाम थाने से चंद कदम की दूरी पर बेरी वाला पार्क की है। 16 साल की लड़की अपने एक दोस्त के साथ पार्क में आई थी। आरोप है कि इसी दौरान सुनसान जगह पर बैठा देखकर तीन लड़कों ने लड़की से बदसलूकी शुरू कर दी। 

लड़की के बचाव में जब उसका दोस्त आया तो उसे भी बुरी तरह पीटा गया। आरोपियों ने पीड़िता से भी हाथापाई की। आरोपियों ने सबसे पहले दोनों के मोबाइल छीन लिए। आरोप है कि लड़के को बंधक बना लिया। पीड़िता को अंदर सुनसान जगह पर ले जाकर रेप किया।