3 लाख से ज्यादा का लेन-देन करने पर सरकार कसेगी शिकंजा

नई दिल्ली (23 अगस्त): सरकार तीन लाख रुपये से ज्यादा नकदी लेन-देन पर शिकंजा कसने वाला है। अब इससे ज्यादा रकम पर जल्द पाबंदी लगने वाली है। सूत्रों के मुताबिक सरकार एक तय रकम से ज्यादा नकद रखने पर भी रोक लगाने की तैयारी में है।

सूत्रों के हवाले से मिली खबरों के मुताबिक तीन लाख से ज्यादा के नकद लेन-देन पर पाबंदी लगेगी। इसके लिए इनकम टैक्स एक्ट में प्रावधान जोड़ने की तैयारी हो रही है। अगर ऐसा होता है तो अब तीन लाख से ज्यादा का लेनदेन चेक, ड्राफ्ट, ऑनलाइन से ही हो पाएगा। एनआरआई के मामले में रकम की सीमा ज्यादा हो सकती है। अब आपको तीन लाख से ज्यादा की निकासी पर बैंक को जानकारी देनी होगी। फिर बैंक को ये जानकारी आईटी विभाग और एफआईयू को देनी होगी। ये नियम तोड़ने पर जुर्माने का प्रावधान होगा। संगीन मामलों में जुर्माने के साथ सजा भी हो सकेगी। इस प्रस्ताव का मकसद काले धन पर रोक लगाना है।

यही नहीं एक तय रकम से ज्यादा नकदी रखने पर भी रोक लग सकती है। एसआईटी ने 15 लाख रुपये से ज्यादा की नकदी रखने पर रोक की सिफारिश की की थी। सूत्रों के मुताबिक वित्त मंत्रालय एसआईटी की ओर से सुझाई गई सीमा से सहमत नहीं है। कारोबारियों के लिए 15 लाख की सीमा काफी कम होगी जिसको देखते हुए सरकार 15 लाख रुपये से ज्यादा की सीमा तय कर सकती है। सूत्र के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक सरकार अलग-अलग लोगों के लिए अलग सीमा भी तय कर सकती है। फिलहाल नकदी रखने की अधिकतम सीमा पर सहमति नहीं बन पाई है।