वाट्सएप पर भेजती थी फोटो, 1 घंटे के लेती थी...

नई दिल्ली (2 जुलाई): राजस्थान के अलवर से एक ऐसी खबर सामने आई है, जिसने सभी के रोंगटे खड़े कर दिए हैं। यहां पर पुलिस ने एक बड़े रैकेट को पकड़ने में कामयाबी हासिल की। कार्रवाई में एक कॉलगर्ल और उसके दो दलालों को पीटा एक्ट में अरेस्ट किया।

इनमें से एक दलाल पिछले महीने पुष्कर में तीन कॉलगर्ल्स के साथ पकड़ाया था। आरोपी दलाल कस्टमर को वाट्सएप पर कॉलगर्ल्स की फोटो भेजता था। रेट फिक्स होने पर लड़की को कस्टमर के पास भेजा जाता था। पुलिस एक कॉन्स्टेबल ने बोगस ग्राहक बनकर फोन पर बात की। पांच हजार रुपए में एक घंटे के लिए कॉलगर्ल भेजना तय हुआ। सौदेबाजी होने के बाद वरुण व नरेंद्र कॉलगर्ल को लेकर शहर पहुंचे। इधर, बोगस ग्राहक बने कांस्टेबल ने फोन पर वरुण से पूछा कि किस होटल में आना है।

जवाब दिया गया कि होटल में पुलिस की सख्ती है, खुद ही इसकी व्यवस्था करें। इसके बाद दोनों आरोपी कॉलगर्ल को लेकर जीसी-1 एटीएम के पास पहुंचे। ग्राहक ने उन्हें पांच हजार रुपए कैश सौंपे और कॉलगर्ल को बताई गई जगह पर लाने को कहा। इस पर वरुण और नरेंद्र कॉलगर्ल को वहां छोड़ने के लिए लेकर निकले। आईपीएस चूनाराम की टीम ने तीनों को धर दबोचा।

आरोपी युवती ने पूछताछ में पुलिस को गुमराह किया, पहले खुद को पंजाब का निवासी बताया फिर कहने लगी कि यूपी में रहती है। पुलिस सही नाम-पते को लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक आरोपियों में श्री टॉकीज के पास रहने वाले वरुण पुत्र दिलीप, पीसांगन निवासी नरेंद्र पुत्र रमेशचंद और गाजियाबाद (यूपी) की युवती को गिरफ्तार किया गया।