इस बार गणतंत्र दिवस परेड में कदमताल करते नजर आएंगे एनएसजी कमांडो

नई दिल्ली ( 16 जनवरी ): इस साल गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार एनएसजी कमांडो का दस्ता हिस्सा लेगा।  अभी तक एनएसजी कमांडो गणतंत्र दिवस परेड को सुरक्षा-कवच प्रदान करते आए थे, लेकिन पहली बार वे राजपथ पर कदमताल करते नजर आएंगे। इसलिए एनएसजी कमांडो ने 26 जनवरी के लिए राजपथ पर अपनी रिहर्सल शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, करीब 100 ब्लैक कैट कमांडो इस साल एनएसजी के मार्चिंग-दस्ते का हिस्सा होंगे। इनमें से 72 कमांडो मार्च-पास्ट में हिस्सा लेंगे और बाकी कमांडो ऑपरेशन में इस्तेमाल होने वाली खास गाड़ियों में होंगे। डॉग स्कवॉयड और बम निरोधक दस्ता भी टुकड़ी का हिस्सा होंगे।

मार्च पास्ट करने वाले कमांडो हाथों में खास एमपी-5 राइफल लिए एनएसजी के वॉर-क्राई (War-cry), ‘हैं ना, हैं ना, हिंदुस्तान’ के साथ राजपथ पर कदमताल करेंगे। उसके पीछे बख्तरबंद गाड़ी के ऊपर खास लैडर (सीढ़ी) पर एक कमांडो चढ़ा हुआ दिखाई देगा। ये दर्शाता है कि अगर किसी हाई राइज़ बिल्डिंग या फिर प्लेन पर चढ़ना हो तो कैसे चढ़ा जाता है ये दिखाया गया हैं, क्योंकि एनएसजी को हॉस्टेज़ सिचुयेएशन यानी किसी बिल्डिंग में बंधक स्थिति हो या फिर विमान हाईजैक हो जाने वाले परिस्थिति से निपटने में महारत हासिल है। डॉग स्कवॉयड और बम निरोधक दस्ता भी एनएसजी का खास हिस्सा है। इसीलिए उसे भी मार्च-पास्ट में शामिल किया गया है।