...तो इसलिए लालू पर CBI ने मारा छापा

नई दिल्ली (7 जुलाई): सीबीआई ने शुक्रवार सुबह राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, उनके परिवार और करीबियों के करीब 12 ठिकानों पर छापेमारी मारा। सीबीआइ ने लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी सहित उनके बेटों पर मामला भी दर्ज किया है।


बताया जा रहा है कि इस छापेमारी के पीछे की वजह आइआरसीटीसी के होटलों के रखरखाव के लिए जारी किए गए टेंडर में अनियमितता बताई जा रही है। सीबीआई ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर छापेमारी की वजहें बताई हैं।


-जनवरी 2006 में IRCTC ने रेलवे से रांची, पुणे के BNR होटल लिए।


-नवंबर 2006 में होटलों के विकास और मरम्मत के लिए ठेका जारी हुआ।


-सुजाता होटल प्राइवेट लिमिटेड को होटल के रखरखाव का ठेका मिला।


-कंपनी ने 15.45 करोड़ और 9.96 करोड़ रुपए लाइसेंस फीस चुकाई।  


-2004 से 2009 तक लालू यादव रेल मंत्री थे।


-लालू पर सौदे के बदले 2 एकड़ जमीन लेने का आरोप है।


-IRCTC ने लालू पर आरोपों पर सफाई दी


-19 मार्च, 2004 को समझौते पर दस्तख़त के समय नीतीश रेल मंत्री थे : IRCTC


-जमीन बाद में लालू के करीबी प्रेम चंद गुप्ता की कंपनी के नाम कर दी गई।