इस देश के राष्ट्रपति ने की ज्यादा बच्चे पैदा करने की मांग, बर्थ कंट्रोल को बताया राष्ट्रद्रोह

नई दिल्ली (6 जून): टर्की के राष्ट्रपति तैइप एरडोगन ने अपने देश की महिलाओं से कहा है कि वो कम से कम तीन-तीन बच्चे हर हाल में पैदा करें। राष्ट्रपति तैइप एरडोगन यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि अगर टर्की की महिलाएं तीन बच्चे पैदा नहीं करती हैं तो उनका जीवन अधूरा है। टर्की वूमेनस एण्ड डेमोक्रेसी एसोसिएशन के समारोह में तैइप ने कहा कि अगर आप मातृत्व से मुंह मोड़ रहीं हैं तो इसका मतलब है कि आप मानवता को दरकिनार कर रही हैं।

हालांकि पिछले दस सालों में टर्की की जनसंख्या में अच्छी-खासी बढौतरी हुई है। इसके बावजूद तैइप एरडोगन का यह बयान उनके विवादित बयानों की श्रंखला का एक हिस्सा माना जा रहा है। उन्होंने कहा कि वो महिलाओं के आत्मनिर्भरता के पक्षधर हैं लेकिन बच्चे पैदा करने में करियर बाधा नहीं बनना चाहिए। उन्होंन कहा कि मेरी गुजारिश है कि आप लोग कम से कम तीन बच्चों को जन्म अवश्य दें।

तैइप ने कहा कि उनकी सरकार कामकाजी महिलाओँ के लिए महत्वपूर्ण कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि गर्भनिरोधक और परिवार नियोजन आप लोगों के लिए नहीं है। अगर कोई महिला यह कहती है कि वो अपने व्यवसाय के लिए मां नहीं बन सकती तो इसका मतलब है कि वो अपने स्त्रीत्व को लांछन दे रही है। गौरतलब है कि तैइप परिवार नियोजन को राष्ट्रद्रोह की संज्ञा दे चुके हैं।