महसूस हो ये संकेत तो समझ लें द्वार पर खड़े हैं यमराज...

 

नई दिल्ली (3 जुलाई): दुनिया में कोई भी ऐसा शख्‍स नहीं है जो मरना चाहता है, लेकिन यह भी एक सच है कि जो जीव इस पृथ्‍वी पर आया है उसका एक दिन अंत जरूर होगा। शिव पुराण के अनुसार एक बार माता पार्वती ने भगवान शिव से पूछा क्या कोई ऐसे संकेत हैं जिससे पता लग जाए कि मनुष्य की मृत्यु होने वाली है? या मनुष्य की मृत्यु निकटस्थ है। तब भगवान शिव ने माता पार्वती को बताए मृत्यु के ये संकेत।

 

मृत्यु के संकेत: 1: भगवान शिव के अनुसार जब व्यक्ति के तन का रंग हल्का पीला पडऩे लगे या सफेद व थोड़ा सा लाल हो जाए तो यह इस ओर संकेत करता है कि व्यक्ति की मौत अगले 6 महीने के अंतराल में होने वाली है।

2: जब कोई व्यक्ति अपनी परछाई को पानी, तेल और सीसे में नहीं देख पाए तो यह इस ओर इंगित करता है कि व्यक्ति की मौत अगले 6 महीनों में होने वाली है।

3: जो लोग अपनी वास्तविक उम्र से ज्यादा जीते हैं उन्हें उनकी परछाई दिखाई नहीं देती और जिन्हें दिखाई देती है उन्हें धड़ रहित छाया दिखाई देती है।

4: जब किसी व्यक्ति के बाएं हाथ में अजीब तरह की मरोड़ आने लगे और एक हफ्ते से ज्यादा तक जारी रहे तो समझ लीजिए वह व्यक्ति एक महीने से ज्यादा नहीं जिएगा।

5: जब किसी इंसान को यह महसूस होने लगे कि उसका मुंह, जीभ, आंखे, कान और नाक ठीक से काम नहीं कर रहे हैं तो उसक व्यक्ति की अगले 6 माह के बाद मृत्यु निश्चित होती है।

6: जिस व्यक्ति को रात में इंद्रधनुष और दिन में उल्कापात होता दिखाई दें, गिद्ध और कौवे उसे घेरे रहें उसकी मृत्यु 6 अंदर हो जाती है।

7: जब कोई व्यक्ति चंद्रमा, सूर्य के प्रकाश को देखने में असमर्थता महसूस करने लगे तो यह निश्चित है कि वह व्यक्ति 6 महीने में मर जाएगा।

8: अगर व्यक्ति की जुबान में सूजन आ जाए और उसके दांतों से पस बहने लगे तो यह उस व्यक्ति की 6 महीनें में मौत का संकेत है।

9: जब व्यक्ति को सूर्य, चंद्रमा और आसमान सिर्फ लाल नजर आने लगे तो भी वह व्यक्ति अगले 6 महीनों में मरने वाला होता है।

10: शिवपुराण के अनुसार जिस व्यक्ति को नीली मक्खियां आकर घेर लें, उसकी मृत्यु 1 महीने के भीतर हो जाती है।

11: जिस व्यक्ति को सप्तर्षि तारे न दिखाई दें, उस व्यक्ति का जीवन भी 6 महीने तक का ही होता है।

12: जिस व्यक्ति को सूर्य और चंद्रमा काले दिखाई देने लगे और सभी दिशाएं घुमती दिखाई दें उसकी मृत्यु भी 6 महीने के भीतर निश्चित है।