40 साल पुरानी डील की वजह से 250 नौकरशाह 'मुफ्त' देखेंगे मुंबई में सेमीफाइनल

मुंबई (31 मार्च) :  भारत आज मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल के लिए उतरेगा। दोनों टीमों में से फाइनल में इंग्लैंड से भिड़ने के लिए किसे टिकट मिलता है, ये इसी अहम मुकाबले पर निर्भर करता है।

एनडीटीवी वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक भारत और वेस्ट इंडीज़ के बीच खेले जाने वाले इस मुकाबले को वानखेड़े स्टेडियम में 'मुफ्त' देखने के लिए महाराष्ट्र के 200 विधायकों और 250 नौकरशाहों को मौका मिलेगा। ये महाराष्ट्र सरकार और मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के बीच चार दशक पुराने समझौते की वजह से है। राज्य सरकार का कहना है कि सत्तर के दशक में क्रिकेट संस्था को ज़मीन अलॉट की गई थी। समझौते की शर्त के मुताबिक क्रिकेट संस्था को ज़मीन के लिए नकद कुछ नहीं देना था। इसके बदले मुफ्त टिकट उपलब्ध कराए जाने का प्रावधान किया गया था। समझौते के तहत उन जिमखाना क्लबों को भी फ्री टिकट देने का प्रावधान है जिन्होंने स्टेडियम का निर्माण कराने में मदद की थी।  

वानखेड़े स्टेडियम जहां बना है वो ज़मीन राज्य सरकार की है। महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष और बीजेपी नेता आशीष शेलार के मुताबिक इसी समझौते के तहत 250 टिकट दिए गए हैं। साथ ही 200 टिकट विधायकों के लिए उपलब्ध कराए गए हैं।

राज्य सरकार का तर्क है कि वानखेड़े स्टेडियम में 33,000 लोगों की क्षमता है। बता दें कि इस मैच के 14000 टिकट स्पॉन्सर्स, खिलाड़ियों, अधिकारियों और विज्ञापनदाताओं में बांटे गए हैं। ऐसे में सिर्फ 19000 टिकट ही दर्शकों के लिए बच जाते हैं।

आज के सेमीफाइनल के लिए टिकटों की कीमत 1500 रुपए और 10,000 रुपए हैं। सेमीफाइनल और कोलकाता में रविवार को खेले जाने वाले फाइनल के लिए सभी टिकटें पहले ही बिक चुकी हैं।