तीसरे विश्वयुद्ध में जापान और अमेरिका के बीच शुरु होगा ?

नई दिल्ली (22 अगस्त):  अमरीका के राजनैतिक मामलों के विशेषज्ञ जार्ज फ़्रेडमैन की भविष्यवाणी है कि वर्ष 2050 में तीसरा विश्व युद्ध छिड़ेगा और इस विश्व युद्ध में अमरीका और चीन एक मोर्चे में खड़े नज़र आएंगे। जार्ज फ़्रेडमैन ने अपनी पुस्तक में इस विषय के बारे में लिखा है जिसके आधार पर लोमोंड अख़बार में एक लेख प्रकाशित किया गया है। लेखक का कहना है कि तीसरा विश्व युद्ध वर्ष 2050 में लड़ा जाएगा और यह विश्व युद्ध अमरीका तथा चीन के बीच नहीं होगा बल्कि अमरीका और चीन तो एक साथ खड़े नज़र आएंगे।

जार्ज फ़्रेडमैन ने अपनी पुस्तक में यह सवाल उठाया है कि क्या हमारे सामने तीसरा विश्व युद्ध है? उनकी पुस्तक का नाम है दुनिया 100 साल बाद। लेखक का कहना है कि बहुत भीषण लड़ाई होगी जो वास्तव में तीसरा विश्व युद्ध होगा।

फ़्रेडमैन का कहना है कि इस लड़ाई में एक ओर अमरीका, चीन, यूरोप, ब्रिटेन और भारत होंगे जबकि दूसरी ओर तुर्की और जापान होंगे। फ़्रेडमैन ने कहा कि तीसरा विश्व युद्ध तुर्की और जापान की ओर से अचानक किए जाने वाले हमले से शुरू होगा। उनका कहना है कि तुर्की और जापान की कोशिश होगी कि अमरीका पर हमला करें लेकिन वह अमरीका को बर्बाद नहीं करना चाहेंगे बल्कि अमरीका को आर्थिक रूप से कमज़ोर करने की कोशिश करेंगे। जापान चाहेगा कि प्रशांत महासागर में उसके हित सुरक्षित रहें और तुकी मध्यपूर्व में अपने हित बचाने की कोशिश करेंगा।