क्रिकेट में होने जा रहा है बड़ा बदलाव

नई दिल्ली(21 अगस्त):  अब तक आपने क्रिकेट के मैदान पर फील्ड अंपायर को नो बॉल को इशारा देते हुए देखा होगा लेकिन जल्द ही आप टीवी अंपायर को नो बॉल को डिसीजन देते हुए देखेंगे।

- अब मैच के दौरान नो बॉल का निर्णय फील्ड अंपायर नहीं बल्कि टीवी अंपायर करेगा। यह सब कुछ आईसीसी के नए एक्सपरिमेंट के तौर पर किया जा रहा है।

- आईसीसी द्वारा से शुरू किए गए नए एक्सपरिमेंट का सबसे पहले प्रयोग 24 अगस्त से शुरू हो पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच पांच वनडे मैंचों की सीरीज में होगा। बुधवार से शुरू हो रहे इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच पहले वनडे में अब फ़ील्ड अंपायर को इस बात की चिंता नहीं होगी कि गेंदबाज़ का पैर कहीं पॉपिंग क्रीज़ से आगे तो नहीं निकल गया। क्योंकि आईसीसी ने प्रयोग के तौर पर इस सीरीज़ में फ्रंट फ़ुट नो बॉल देखने और इशारा करने की ज़िम्मेदारी तीसरे अंपायर को दे दी है।

- पहले कई बार गेंदबाज़ों को इसका फ़ायदा भी मिलता था और वह नो बॉल से बच जाते थे क्योंकि ज़्यादातर मौक़ों पर अंपायर तभी टीवी अंपायर से मदद लेते हैं जब उस गेंद पर बल्लेबाज़ के खिलाफ आउट होने की अपील होती है।

- इस संबंध में आईसीसी के मुख्य प्रबंधक ऐड्रियन ग्रिफिथ ने कहा कि इस प्रयोग का मक़सद ये है कि फ्रंट फुट नो बॉल और भी सही और अच्छे तरीक़े से देखी जा सके। साथ ही साथ हमारी नजऱ टीवी अंपयार की बढ़ती हुई जिम्मेदारी और खेल पर पड़ते हुए असर पर भी है। मैच शुरू होने से पहले अंपायर्स और मैच रेफऱी के साथ एक ट्रेनिंग सेशंस भी रखा जाएगा।