रामायण पर 'लॉर्ड ऑफ द रिंग्स' की टक्कर जैसी भव्य फिल्म बनाने की तैयारी

नई दिल्ली (14 मार्च) :  'रामायण'  ऐसी पौराणिक गाथा है जिसे हमारे देश में सदियों से सुना जाता रहा है। लेकिन हाल के दशकों की बात की जाए तो रामानंद सागर के टीवी धारावाहिक 'रामायण' को देश-विदेश में असाधारण लोकप्रियता मिली थी। इस पौराणिक गाथा को अनेक बार फिल्म, एनिमेशन के ज़रिए पर्दे पर उकेरा जा चुका है।

लेकिन अब 'रामायण' को पूरी दुनिया से बड़े पर्दे पर रू-ब-रू कराने के लिए तीन युवा फिल्मकारों ने हाथ मिलाया है। निर्देशक विनीत सिन्हा और शॉन ग्राहम ने क्रिएटिव डायरेक्टर रोनी आलमैन के साथ हाथ मिलाकर रामायण को अंग्रेज़ी में बनाने का बीड़ा उठाया है। अमेरिका के इन फिल्मकारों का मानना है कि भारतीय पौराणिक कथाओं को विश्व से परिचित कराया जाना चाहिए।

विनीत ने कहा कि हॉलिवुड, जापान और चीन- बैटमैन, सुपरमैन, स्टारवार्स, पोकेमैन जैसी फिल्में बना कर उन्हें दुनिया भर में मार्केट करते हैं। लेकिन भारतीय कथाओं के बारे में दुनिया अधिक नहीं जानती है।   

शॉन ग्राहम ने कहा कि रामायण की कथा को 3डी और आईमैक्स में बनाया जाएगा।

शॉन के मुताबिक भारत में अब तक महंगी से महंगी फिल्म की लागत ढाई करोड़ डॉलर (करीब 160 करोड़ रुपए) रही है। लेकिन रामायण पर बनने वाली फिल्म की लागत इससे दुगनी होगी।  

विनीत और शॉन का कहना है कि हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती भारत और विदेश के दर्शकों की उम्मीदों को एक साथ पूरा करना होगा। हमारा उद्देश्य 'लॉर्ड ऑफ द रिंग्स', 'प्लेनेट ऑफ द एप्स' जैसी भव्य फिल्म बनाना है। लेकिन हम ये भी ध्यान रखेंगे कि हमारे निरूपण से भारतीय दर्शक भी अपना तारतम्य बने रहना महसूस करें।

शॉन ने कहा कि हज़ारों साल पुरानी दुनिया दिखाने का मतलब है आपको कई तरह के डिजाइन करने होंगे।

शान ने कहा कि हम मानते हैं रावण बहुत बुद्धिमान, तार्किक, रचनाधर्मी, सख्त और विनोदप्रिय शासक था। हम उसके दस सिरों को दस मानवीय स्वभावों के साथ पेश करेंगे।