मारग्रेट थैचर के बाद टेरेसा होंगी ब्रिटेन की दूसरी महिला पीएम

नई दिल्ली (11 जुलाई): 25 साल के बाद टेरेसा मे ब्रिटेन की महिला प्रधानमंत्री बन सकती है। मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार, बुधवार डेविड कैमरेन अपने पद से इस्तीफा देंगे, जिसके बाद टेरेसा के नाम का ऐलान किया जा सकता है।

थेरेसा अभी तक ब्रिटेन की गृह मंत्री थी। पीएम पद की दौड़ के लिए कंजरवेटिव पार्टी में टेरेसा मे और एंड्रिया लीडसम दावेदार थी। एंड्रिया कैमरून मंत्रीमंडल में उर्जा मंत्री हैं, लेकिन उन्होंने पीएम पद के लिए अपनी दावेदारी वापस ले ली, क्‍योंकि पार्टी की इंटरनलवोटिंग में सबसे ज्यादा वोट थेरेसा को मिले। 25 जून को यूरोपियन यूनियन से बाहर होने के फैसले पर भी थेरेसा ने अपना मत साफ कर दिया है। उन्होंने कहा है कि वह ग्रेट ब्रिटेन में दुबारा जनमत संग्रह नहीं कराएंगी।

यह भी पढ़ें: जानिए कौन हैं टेरेसा मे

आपको बता दें कि ब्रिटेन के यूरोपियन यूनियन से अलग होने के बाद कैमरेन ने इस्तीफे का एलान किया था। थेरेसा 1997 में पहली बार संसद के लिए चुनी गईं। 2002 से 2003 तक वह कंजरवेटिव पार्टी की चेयरपर्सन भी रहीं। हालांकि केमरेन की तरह वो भी यूरोपीय संघ में रहने की पक्षधर थीं। उन्हें गंभीर, अनुभवी और ईमानदार महिला माना जाता है।

मारग्रेट थैचर थीं पहली महिला पीएम ब्रिटेन के इतिहास में पहली महिला प्रधानमंत्री के तौर पर मारग्रेट थैचर ने 1979 से 1990 तक ब्रिटेन की कमान संभाली। थैचर भी भी कंजरवेटिव पार्टी से थीं। पूरे विश्व में आयरन लेडी के नाम से मशहूर थैचर, जनता के भारी विरोध के बावजूद ब्रिटेन को मुक्त बाजारवादी अर्थव्यवस्था की राह पर ले गईं। आयरिश रिपब्लिकन आर्मी द्वारा हत्या के प्रयास और उस हमले में पांच लोगों के मारे जाने के बावजूद थैचर ने अगले दिन सभाकर अपने अडिग इरादों का परिचय दिया था।