ब्रिटिश PM बोलीं, हां, मैं परमाणु हमला कर लाखों को मार सकती हूं

ऩई दिल्ली(19 जुलाई): ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टरीसा ने कहा है वह जरूरत पड़ने पर लाखों लोगों को परमाणु हमले में मार सकती हैं। प्रधानमंत्री ने संसद में बहस के दौरान दो टूक जवाब दिया।

ब्रिटिश संसद में ट्राइडन्ट न्यूक्लियर वेपन्स प्रोग्राम के नवीकरण पर बहस हो रही थी। स्कॉटिश नैशनल पार्टी के सांसद जॉर्ज क्रिवेन ने प्रधानमंत्री को चुनौती देते हुए पूछा कि क्या आप परमाणु हमले के लिए तैयार हैं जिसमें लाखों पुरुष, महिलाएं और बच्चे मारे जा सकते हैं?

ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने एक शब्द में जवाब दिया 'येस'। पीएम ने सांसदों से यह भी कहा कि ब्रिटेन अपने परमाणु हथियारों को नष्ट कर देता है तो यह संपूर्ण गैरजिम्मेदार कार्रवाई होगी। टरीसा मे ने कहा कि यूके का ट्राइडन्ट मिसाइल सिस्टम देश के दुश्मनों से बचाव के लिए है। उन्होंने इस मामले में अपने आलोचकों को भी घेरा। इससे पहले के प्रधानमंत्री इस तरह के काल्पनिक सवालों का जवाब देने से बचते थे कि क्या वे न्यूक्लियर बटन दबाने के लिए तैयार हैं। शीत युद्ध के आखिरी वर्षों के विदेश सचिव सर जेफ्री हाऊ ने कहा था कि यह ऐसा सवाल है जिसका जवाब किसी भी प्रधानमंत्री को कभी भी सीधा नहीं देना चाहिए।

हालांकि पीएम मे को पता है कि विपक्षी लेबर पार्टी के नेता इस मामले में अपनी पोजिशन के साथ हैं। जाहिर है उनकी पोजिशन विपरीत थी। बिना पूछे संसद में विपक्ष के नेता जर्मी कोर्बिन ने खुद से बयान देते हुए कहा, 'मैं लाखों बेगुनाहों की जान लेने पर कोई फैसला नहीं लेने जा रहा। मैं नहीं मानता कि इंटरनैशनल रिलेशन में व्यापक जनसंहार की कोई प्रासंगिकता है।' न्यूक्लियर वेपन्स के नवीनीकरण को लेकर सोमवार को वोटिंग का फैसला डेविड कैमरन ने किया था। कैमरन संसद में तीसरी लाइन में बैठे थे। उन्होंने कहा कि उनकी उत्तराधिकारी ने हाउस ऑफ कॉमन्स में जो कहा है कि उसमें वैसा कुछ भी नहीं है।