हर साल कई एकड़ फसल किसानों में बांट देता है यह किसान

बलवंत सिंह, बरनाला (23 अप्रैल): हातिमताई की दरियादिली के किस्से आपने सुने होंगे। मगर आज हम आपको मिलवाने जा रहे हैं आज के ज़माने हातिमताई से, जो न तो बिज़नेसमैन है और न ही नेता, बस एक किसान है। मगर उसकी दरियादिली ने उसे इतना बड़ा बना दिया है कि लोग यहां उसका नाम इज़्ज़त से लेते हैं। ये किसान इतना दरियादिल है कि हंसते-हंसते अपनी खड़ी फसल गरीबों में लुटा देता है।

किसान का नाम कुलवीर सिंह है, जिसे लोग गरीबों का मसीहा भी कहते हैं। ज़हन में ये सवाल उठना लाज़मी है कि आज जहां किसान फसलें खराब होने की वजह खुदकुशी करने पर मजबूर हैं, वहां ये कैसा किसान है जो खुद ही अपनी फसलों को लुटवा रहा है और मुस्कुरा भी रहा है। पिछले 60 सालों से फसल तैयार होने के बाद गरीब और किसान यहां आते हैं और एक इशारा मिलते ही पूरे परिवार समेत फसल को लूटकर चले जाते हैं।

कुलवीर सिंह नाम के इस किसान का परिवार एक अर्से से यूं ही गरीबों की मदद करता आया है। पंजाब में बरनाला के तप्पा गांव के किसान कुलवीर सिंह के पास कई एकड़ खेती के लिए ज़मीन है, जिसमें से वो हर साल गांव के गरीब लोगो के लिए उनकी जरूरत के मुताबिक खेत में ही खड़ी गेहूं की फसल दान में दे देते हैं।

हर साल जैसे ही कुलवीर सिंह फसल को दान करने की सूचना गांव में देते हैं तो भारी तादाद में लोग खेतों में जमा हो जाते हैं। जी भर के फसलों को काटते हैं और अपने परिवार के लिए खाने का इंतज़ाम करते हैं।

देखें पूरी रिपोर्ट:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=58VAPrrZvxI[/embed]