चंद्रयान-2 मिशन: चंद्रमा पर जल्द पहुंचेगा भारत , लैंडिग परीक्षण शुरू

नई दिल्ली ( 9 फरवरी ): भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने चंद्रयान-2 मिशन की सफलता के लिए परीक्षण का काम शुरू कर दिया है। चंद्रयान-2 को वर्ष 2018 में लॉन्च करने की योजना है।

इसके सॉफ्ट लैडिंग के लिए जरूरी इंजन की टेस्टिंग कर्नाटक के चल्लाकेरे स्थित केंद्र में अपने महत्वाकांक्षी चंद्रयान-2 मिशन के लिए परीक्षण किए हैं जहां लैंडिंग मिशन के लिए छद्म चंद्र गड्ढे (सिम्यलैटेड लुनार क्रेटर) बनाए गए हैं।

चंद्रयान-2 के उपकरणों और संवेदकों की परख के लिए चंद्रमा की सतह की भांति ही इस केंद्र में जमीन पर कई गड्ढे बनाए गए हैं।