ये है सिंगल चार्ज में सबसे दूर...तक जाने वाली इलेक्ट्रिक कार

अमेरिका की टेस्ला मोटर्स लग्ज़री और हाईपरफॉर्मेंस इलेक्ट्रिक कारों के लिए जानी जाती है। अब कंपनी ने एक और नई इलेक्ट्रिक कार को पेश किया है, जो सबसे लंबी दूरी तय करने में सक्षम है। एक बार फुल चार्ज होने पर यह 540 किलोमीटर तक बिना रूके चल सकती है।

टेस्ला की इस कार का नाम है ‘100डी’, इसे मॉडल एस रेंज में ही शामिल किया गया है। मॉडल एस 100डी ने अमेरिका की एनवायरोंमेंटल प्रोटेक्शन एजेंसी (ईपीए) के माइलेज़ टेस्ट में एक फुल चार्ज में 335 मील (करीब 540 किलोमीटर) का सफर तय किया। यह एजेंसी भारत की एआरएआई जैसी ही है, जो कारों का माइलेज़ और उत्सर्जन टेस्ट करती है।

मॉडल एस में 100डी से पहले पी100डी कार शामिल रही है, इसे परफॉर्मेंस इलेक्ट्रिक कार के तौर पर जाना जाता है। मॉडल एस पी100डी को कंपनी ने पिछले साल अगस्त महीने में लॉन्च किया था। 0 से 60 मील प्रति घंटे (96 किलोमीटर/घंटा) की रफ्तार पाने में इसे महज़ 2.5 सेकंड लगते हैं।

मॉडल एस के इन दोनों वेरिएंट में ही 100 किलोवॉट का बैटरी पैक लगा है। हालांकि इनकी रेंज अलग-अलग है। पी100डी की रेंज 315 मील (507 किलोमीटर) है, जबकि 100डी की रेंज 335 मील यानी करीब 540 किलोमीटर की है। फिलहाल दुनिया की सबसे लम्बी रेंज वाली इलेक्ट्रिक कार में मॉडल एस 100डी का नाम शुमार है, लेकिन जल्द ही यह खिताब फैराडे फ्यूचर कंपनी की एफएफ91 को मिल सकता है। एफएफ91 (नाइन वन) को कुछ सप्ताह पहले आयोजित हुए कंज्यूमर इलेक्ट्रिक शो (सीईएस-2017) में पेश किया गया था। इसमें 130 किलोवॉट की बैटरी लगी है। यह टेस्ला से 30 किलोवॉट ज्यादा है, कंपनी का दावा है कि यह कार फुल चार्ज में 378 मील से भी ज्यादा (करीब 600 किलोमीटर) का सफर तय कर सकती है। ऐसे में उम्मीद की जा सकती है टेस्ला भी जल्द ही इसमें कुछ नए बदलाव करेगी, जिससे यह एफएफ91 को टक्कर दे सके।

कारदेखो

ये है सिंगल चार्ज में सबसे दूर...तक जाने वाली इलेक्ट्रिक कार