पंपोर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ को पाक मीडिया ने बताया ड्रामा

नई दिल्ली(12 अक्टूबर):पंपोर की एक सरकारी इमारत में छुपे आतंकियों के खिलाफ सेना का अभियान मंगलवार को देर रात तक जारी रहा। करीब 48 घंटे से आर्मी और आतंकियों में मुठभेड़ हुई। इसमें दो सुरक्षाकर्मी जख्मी हुए हैं। बता दें कि सोमवार को पंपोर में सीआरपीएफ जवानों की बस पर हमले के बाद आतंकी जम्मू-कश्मीर औद्योगिक विकास संस्थान (जेकेईडीआई) की बिल्डिंग में छुप गए थे। उधर, आर्मी के इस एनकाउंटर को पाकिस्तानी मीडिया ने ड्रामा करार दिया। 

- जियो न्यूज ने एक खबर में पंपोर के एनकाउंटर को भारतीय ड्रामा करार दिया। जियो ने 24 घंटे के अंदर आतंकियों तक न पहुंच पाने को इंडियन फोर्सेस की 'इनकैपिबिलिटी' माना।

इमारत के रास्ते का ट्रैफिक बंद

- बता दें कि आतंकियों के खिलाफ अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने बहुमंजिला इमारत में विस्फोट भी किए थे। मंगलवार को भी धमाके सुनाई दिए, लेकिन आतंकियों की तरफ से गोलीबारी नहीं हुई।

- सुरक्षा कारणों से श्रीनगर-जम्मू नेशनल हाईवे पंथा चौक से पंपोर की तरफ ट्रैफिक भी बंद रखा गया। पलिुस स्पोक्सपर्सन ने बताया कि आतंकवादियों के खिलाफ अभियान अभी खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने इसके बारे में और कोई जानकारी नहीं दी।