हाफ़िज़ सईद ने चीन को बताया आतंकवादी मुल्क!

नई दिल्ली(24 जनवरी): 26/11 मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद एक छोटी सी गलती के चलते सार्वजनिक रूप से माफ़ी मांगने के लिए मजबूर हो गया।

- दरअसल में जमात ने एक बयान जारी किया जिसमें हाफ़िज़ के हवाले से कहा गया था कि पाकिस्तान में आतंकवाद फैलाने में चीन और रूस का हाथ है। हालांकि जल्दी ही इस गलती को समझ लिया गया और हाफिज ने इसे गलत बयान बताते हुए माफ़ी मांग ली।

- पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक बीते रविवार को हाफिज सईद के संगठन जमात ने बयान जारी कर कहा था कि पाकिस्तान में आतंकवाद फैलाने में चीन और रूस का हाथ है।

- इस बयान के बाद ही हाफ़िज़ के इस बदले रुख पर सवाल उठने शुरू हो गए थे। हालांकि कुछ ही घंटों में इस गलती को सुधार लिया गया और और इसकी जगह बयान जारी कर कहा गया कि पाक को चीन-रूस पर दबाव बनाना चाहिए ताकि वे भारत को पाक में आतंकवाद फैलाने से रोकें।

- इस गलती की गंभीरता को समझते हुए गलत बयान जारी होने के कुछ ही घंटों के भीतर हाफ़िज़ खुद मीडिया के सामने आया और उसने भारत पर आतंकवाद फैलाने का आरोप लगा दिया।

- हाफ़िज़ ने पाक में आतंकवाद फैलाने में भारत का हाथ बताया था और शरीफ सरकार को चीन-रूस पर दबाव बनाने की सलाह दी थी ताकि वे भारत को इससे रोकें। इस पूरे मामले पर जमात-उद-दावा के ऑफिशियल अहमद नदीम ने कहा, " पाकिस्तान में आतंकवाद फैलाने में गलती से चीन का जिक्र हो गया।"