बाढ़ से गांवों में घुसे मगरमच्छ, लोगों में दहशत

नई दिल्ली (23 अगस्त): चंदौली में बाढ़ के साथ साथ मगरमच्छ भी लोगों के लिए मुसीबत का सबब बने हुए हैं। भारी बारिश के बाद यहां की नदियां उफान पर हैं। लिहाजा बाढ़ के साथ मगरमच्छ गांव में आ रहे हैं। जिससे लोगों में दहशत है। 

सोमवार को भीष्मपुर गांव में 8 फीट का मगरमच्छ घुस आया है। इस खबर से गांव के लोगों में हड़कंप मच गया। डरे लोग खुद ही मगरमच्छ को पकड़ने में जुट गए। दो घंटे की मशक्कत के बाद उसे पकड़ा गया। मगरमच्छ को पकड़ने के बाद गांव वालों ने उसे वन विभाग के हवाले कर दिया। बाद में वन विभाग की टीम ने मगरमच्छ को राजदारी झील में छोड़ दिया। 

सिकन्दरपुर क्षेत्र में चंद्रप्रभा नदी में कई बार बड़े मगरमच्छ देखे जाने से इस क्षेत्र में काफी दहशत का माहौल है। वन विभाग ने गांव में दहशत का माहौल काम करने के लिए और मगरमच्छो को पकड़ने के लिए नदी किनारे वन विभाग में डेरा डाल दिया है। 

इसी बीच सोमवार को सिकन्दरपुर गांव के पडोसी गांव भीषमपुर गाँव के सभी लोगो ने धान के खेत में मगरमच्छ देखा। खेत में मगरमच्छ मिलने की सूचना जंगल की तरह फ़ैल गयी। मौके पर सैकड़ो ग्रामीण इकट्ठे हो गए और खुद ही मगरमच्छ को पकड़ने में जुट गए। 

दो घंटे बाद ग्रामीणो ने भीषमपुर के पास से 6 फीट 3 इंच लम्बा मगरमच्छ को पकड़ लिया। मगरमच्छ को ग्रामीणो की सहायता से पकड़ा गया सुबह मगरमच्छ खेत में पहुँच गया था। तब ग्रामीणो ने इसकी सूचना विभाग को दिया। विभाग ने सबे सहयोग से पकड़ा लिया। लेकिन अभी भी लोगों में भय बना हुआ हैं।

मगरमच्छ पकड़ने की सूचना लगते ही सैकड़ों ग्रामीण देखने के लिए पहुँच गये। ग्रामीणों ने मगरमच्छ को रस्सी के सहारे बाँध दिया और वन विभाग को सुचना दी। मौके पर पहुची वनविभाग की टीम ने मगरमच्छ को अपने कब्जे ले लिया और राजदारी जल प्रपात में ले जाकर छोड़ दिया।