टेरर फंडिंग : एनआईए के निशाने पर गिलानी का करीबी कारोबारी

नई दिल्ली (31 जुलाई):  आतंकी गतिविधियों के लिए पाकिस्तान से पैसे लेने के मामले में जम्मू के एक सामाजिक कार्यकर्ता और कारोबारी, देविंदर सिंह बहल से पूछताछ की। इस कारोबारी को कश्मीरी अलगाववादी नेता सैयद अली गिलानी का करीबी माना जाता है और आम तौर पर इसे मारे गए आतंकवादियों के जनाने में शामिल होते देखा गया है। एनआईए ने कहा कि उसने जम्मू एवं कश्मीर सोशल पीस फोरम (जेकेएसपीएफ) के अध्यक्ष, बहल के आवास व कार्यालय की तलाशी ली। जेकेएसपीएफ गिलानी की अगुवाई वाले हुर्रियत कांफ्रेंस के कट्टरवादी धड़े से संबद्ध है।

एनआईए ने एक बयान में कहा है कि तलाशी अभियान के दौरान चार मोबाइल फोन, एक टैबलेट, कुछ इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, आपत्तिजनक दस्तावेज और वित्तीय दस्तावेज बरामद किए गए हैं। बयान में कहा गया है, "एनआईए की टीमों द्वारा पूछताछ जारी है।"