भारत के हमले के डर से लुढका पाकिस्तान शेयर बाजार

नई दिल्ली(22 सितंबर): जम्मू-कश्मीर के उरी में आर्मी बेस पर हुए आतंकी हमलों के बाद भारत के साथ बढ़े तनाव को लेकर पाकिस्तान में हलचल दिख रही है। बुधवार को पाकिस्तानी शेयर मार्केट में भारी गिरावट देखी गई। बेंचमार्क केएसई 100 इंडेक्स में 569.04 (1.41%) की गिरावट के साथ 39771.42 पर बंद हुआ।

- मार्केट डीलर्स के मुताबिक, बुधवार को भारी बिकवाली हुई। इससे भारी नुकसान हुआ है। उधर, नॉर्दर्न इलाके गिलगित, स्कर्दू और चितराल की सभी फ्लाइट्स (आने-जाने वाली) कैंसल करने की खबर भी आई। ये इलाके लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) से सटे हुए हैं। पाक ने अपने कई हाईवे भी बंद कर दिए हैं।

मार्केट पर क्या असर रहा...

- बुधवार को मार्निंग बेल के बाद मार्केट में गिरावट दर्ज की गई। हालांकि, दोपहर में मार्केट रिकवर हुआ, लेकिन उसके बाद फॉरेन इन्वेस्टर्स ने पैसा निकालना शुरू कर दिया।

- सबसे ज्यादा बिकवाली स्माल और मिड कैप कंपनियों में देखी गई। जिससे बाजार 12 हफ्तों के सबसे निचले स्तर पर चला गया।

- दिन के आखिर में 441 कंपनियों में से 73 कंपनियों के स्टॉक ग्रीन में और जबकि 362 के स्टॉक रेड में दिखे।

- कराची स्टॉक एक्सचेंज के पूर्व चेयरमैन आरिफ हबीब ने बताया बाजार पर पाकिस्तान और भारत के बीच बढ़ते तनाव का असर दिखा। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर दिन भर खबरें चलती रहीं। जिससे खराब इमेज बनी और फॉरेन इन्वेस्टर्स ने बाजार से पैसा निकाल लिया।

-  दरअसल पाक मीडिया में खबरें चलीं कि उड़ी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ वॉर के पहले फेज की तैयारियां पूरी कर ली हैं। 

- ऐसे ही दावों के बाद पाकिस्तान ने आर्मी को किसी भी हमले के लिए तैयार रहने को कहा है।

- पाक आर्मी के सूत्रों के हवाले से जियो न्यूज ने लिखा, ''अगर कोई हमला होता है तो पाकिस्तानी सेना मुंहतोड़ जबाव देगी और भारत को रेड लाइन क्रॉस नहीं करने देगी।"