राजनाथ के हमले पर पाक का जवाब- कहा, भारत फैला रहा है आतंक

नई दिल्ली(5 अगस्त): सार्क सम्मेलन के दूसरे दिन भारत और पाकिस्तान के गृहमंत्रियों ने एक दूसरे की सरकार पर तीखे हमले किए। कश्मीर घाटी में बुरहान वानी के मारे जाने के बाद हफ्तों के लिए उपजी हिंसा के दौरान दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था।

- भारतीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अपने सम्बोधन में पाकिस्तान सरकार पर सीधे निशाना साधा। पाकिस्तान सरकार ने भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा हिजबुल कमांडर बुरहान वानी को मारे जाने की कड़ी निंदा की थी।

- राजनाथ सिंह ने कहा था,'आतंकी अच्छे या बुरे नहीं होते। आतंकियों को शहीदों की तरह महिमामंडित नहीं किया जाना चाहिए।'

- वहीं, पाकिस्तानी गृहमंत्री चौधरी निसार अली खान ने जवाबी प्रतिक्रिया में भारत सरकार का नाम लिए बिना कहा कि कश्मीर में विरोध प्रदर्शन को दबाने के लिए जरूरत से ज्यादा फोर्स का इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने कहा, 'मासूम बच्चों और बेगुनाह नागरिकों को टॉर्चर करना भी आतंकवाद है।'

- निसार ने कहा कि यह 'अतिवादी' मानसिकता बदलने की जरूरत और मुद्दों को बातचीत से हल किया जाना चाहिए। पाकिस्तानी गृहमंत्री ने कहा कि पठानकोट, काबुल, मुंबई और ढाका की तरह ही पाकिस्तान ने भी आतंकवाद की वजह से कई मासूम जिंदगियां खोई हैं। उन्होंने कहा कि आरोप-प्रत्यारोप का यह दौर पिछले छह दशकों से चला आ रहा है लेकिन इससे किसी को फायदा नहीं हुआ है।