Blog single photo

यहां छिपा है अकूत खजाना, ढूंढ सको तो ढूंढ लो

आज के दौर में शायद ही ऐसा कोई होगा जो धन-दौलत के पीछे न भागता हो। यहां तक की धन दौलत का पीछा करते-करते कई बार हमारी जान पर बन आती है।

नई दिल्ली (25 मई): आज के दौर में शायद ही ऐसा कोई होगा जो धन-दौलत के पीछे न भागता हो। यहां तक की धन दौलत का पीछा करते-करते कई बार हमारी जान पर बन आती है। यानि कि खजाने कभी-कभी लोगों की जान भी ले लेते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि दुनियां में ऐसे कौन-कौन से खजाने हैं जिसकी वजह से लोगों को अपनी जान तक गवानी पड़ गई।आपको बता दें कि अंबर रूम सेंट पीटर्सबर्ग के करीब एक महल में था। यह महल सोने का बना एक कमरा नुमा चैंबर था जिसका निर्माण 1707 में पर्शिया में हुआ था जो पीटर द ग्रेट को रूस और पर्शिया के बीच हुई शांति के बाद गिफ्ट में मिला था। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान 1941 में नाजियों ने इस पर कब्जा कर लिया और इसे सुरक्षित करने के लिए अलग अलग भागों में बांट दिया। इन सभी टुकड़ों को 1943 में एक म्युजियम में प्रदर्शित किया गया। जहां से यह पूरा का पूरा द अंबर रूम गायब हो गया।

ऐसा ही एक खजाना है जो ईसा पूर्व 560 साल पहले लीडिया (आज के पश्चिमी तुर्की के कुछ प्रांतों पर आधारित देश) नाम के देश पर कारून शासन करता था। जानकारी के लिए आपको बता दें कि  कारून को क्रोशस के नाम से भी जाना जाता है। उसे दौलत जमा करने का बहुत शौक था। लोग ऐसा मानते हैं कि उसका खजाना किसी शाप की वजह से जमींदोज हो गया था और तुर्की के उसाक प्रांत में है।

Tags :

NEXT STORY
Top