इस गांव में एक मुस्लिम महिला हैं देवी माता, लोग करते हैं पूजा

नई दिल्ली (11 अगस्त): गुजरात के गांधीनगर के पास एक ऐसा गांव है जहां मुस्लिम महिला हैं देवी माता। इस गांव का नाम है झुलासन। इस गांव की खासियत है यहां का एक मंदिर। दुनिया में शायद ये ऐसा एकलौता हिन्दू मंदिर है, जिसमें एक मुस्लिम महिला की पूजा देवी रूप में की जाती है।

इस मंदिर में डोला नाम की मुस्लिम महिला की पूजा की जाती है। डोला के बारे में कहा जाता है कि करीब 250 साल पहले इस गांव पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। जिसमें डोला ने वीरतापूर्वक उन बदमाशों से गांव की रक्षा की और शहीद हो गई। कहा जाता है कि डोला का मृत शरीर एक फूल में बदल गया था। डोला की वीरता और सम्मान में गांव वालों ने उसी जगह पर मंदिर का निर्माण किया, जहां डोला ने अपने प्राण त्यागे थे और उसकी देवीय शक्ति के रूप में पूजा करने लगे।

गांधीनगर से करीब 20 किलोमीटर दूर बसा है यह गांव। गांव की आबादी करीब पांच हजार है। इस गांव में एक भी ऐसा परिवार नहीं है जिसका कोई ना कोई विदेश में ना हो। गांव में आठ सौ साल पुराना डोला माता का मंदिर है। डोला माता का जिक्र हिंदू धर्म में कही और नहीं आता। झुलासन से सटे हुए कलोल के स्थानीय भाजपा नेता मुकेश पटेल बीबीसी को बताया, "डोला माता एक मुस्लिम महिला थीं। ऐसा हमारे पूर्वजों ने हमें बताया था।"