लालू के बेटे तेजस्वी का नीतीश पर हमला

नई दिल्ली(26 जून): आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने सोशल मीडिया पर अपने कार्यक्रम 'दिल की बात' में नीतीश कुमार को अवसरवादी और स्वार्थी कहकर निशाना साधा है। नीतीश के साथ-साथ तेजस्वी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को भी निशाने पर लिया।


- पीएम मोदी के रेडियो संबोधन 'मन की बात' की तर्ज पर लालू के छोटे बेटे तेजस्वी ने 'दिल की बात' कार्यक्रम शुरू किया है।


- रविवार को 'दिल की बात' कार्यक्रम में बोलते हुए तेजस्वी ने कहा, अपने अवसरवादी रवैये से हम छोटे-मोटे लाभ हासिल कर सकते हैं, सरकारें बना सकते हैं और गिरा सकते हैं लेकिन टीवी ऐंकरों के उलट इतिहास इस बात की गवाही देगा कि जब भी जनकेंद्रित और प्रगतिशील राजनीति की बात आई तो हम मजबूती से इसके लिए खड़े हुए। तेजस्वी का इशारा साफ तौर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के राष्ट्रपति चुनाव में NDA उम्मीदवार को समर्थन दिए जाने की तरफ था।


- तेजस्वी राहुल गांधी पर भी बरसते नजर आए। उन्होंने कहा, विपक्ष को भी यह समझने की जरूरत है कि राजनीति कोई पार्ट टाइम जॉब नहीं है। मुझे पता है कि विपक्ष भी भ्रम में है और कुछ लोगों की गलत प्राथमिकताओं और आत्मकेंद्रित रवैये की वजह से कुछ बिखर सा गया है।


- तेजस्वी के इस बयान के बाद जेडीयू ने भी पलटवार किया है। जेडीयू ने कहा कि इस तरह के बयानों से गठबंधन और कमजोर ही होगा। कांग्रेस नेताओं ने भी तेजस्वी के इस बयान की आलोचना की और बिहार में महागठबंधन के भविष्य पर सवाल खड़े किए।


- कांग्रेस और जेडीयू के पलटवार के बाद लालू के छोटे बेटे तेजस्वी बचाव की मुद्रा में आ गए। उन्होंने कहा, 'उनका बयान किसी एक के लिए नहीं था बल्कि पूरे विपक्ष के लिए था। उनके बयान का संबंध राष्ट्रपति चुनाव से बिल्कुल नहीं था। हालांकि, तेजस्वी के इस बयान के बाद गठबंधन को नुकसान पहुंच चुका है।' जेडीयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा, हमने चूड़ियां नहीं पहन रखी हैं , हम भी जवाब दे सकते हैं लेकिन इससे केवल गठबंधन को ही नुकसान पहुंचेगा।