लालू के बेटे तेजस्वी को WhatsApp पर मिले शादी के 44000 प्रस्ताव

पटना(22 अक्टूबर): आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव एक बार फिर सुर्खियों में हैं। ताजा मामला उनकी शादी से जुड़ा हुआ है। बताया जा रहा है कि तेजस्वी को शादी के करीब 44 हजार प्रस्ताव भेजे गए हैं।

- बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को उनके वॉट्सएप नंबर पर शादी के करीब 44 हजार प्रस्ताव आए हैं। अधिकारियों के मुताबिक तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री के साथ-साथ जनकल्याण विभाग मंत्री भी हैं।

- उन्होंने अपना वॉट्सएप नंबर सड़कों की खराब हालत की शिकायत को लेकर जारी किया था। जिसके बाद अलग-अलग लड़कियों की ओर से उन्हें शादी के प्रस्ताव भेज दिए गए। प्रिया, अनुपमा, मनीषा, कंचन और देविका कुछ ऐसे नाम हैं जिन्होंने वॉट्सएप पर शादी का प्रस्ताव तेजस्वी यादव को भेजे हैं।  - बताया जा रहा है कि 44 हजार शादी के प्रस्तावों में से कुछ ने तेजस्वी यादव के नंबर संपर्क भी किया। तेजस्वी यादव के वॉट्सएप नंबर पर आए 44 हजार संदेश सरकारी अधिकारी की ओर से बताया गया कि तेजस्वी यादव के नंबर पर 47 हजार संदेश भेजे गए थे। इनमें 44 हजार निजी संदेश थे, जिसमें उनके लिए शादी का प्रस्ताव भेजा गया था। केवल तीन हजार ऐसे संदेश थे जिसमें सड़क मरम्मत से संबंधित जानकारी दी गई थी

- अधिकारी ने बताया कि शादी का प्रस्ताव भेजने वाली लड़कियों ने अपने मैसेज में अपनी फीगर, रंग और ऊंचाई का भी जिक्र किया था। बता दें कि तेजस्वी यादव 26 साल के हैं। तेजस्वी क्रिकेटर से राजनीति में आए हैं। वो राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सबसे छोटे बेटे हैं

- तेजस्वी ने बताया कि अगर वो शादी शुदा होते तो ये संदेश उनके लिए बड़ी मुश्किलें खड़े कर सकते थे। उन्होंने आगे जोड़ा कि धन्यवाद भगवान...मैं अभी भी गैर शादीशुदा हूं।

- तेजस्वी यादव ने इसके साथ ही ये भी कहा कि वो अरेंज मैरिज को ही प्राथमिकता देंगे। बता दें कि बिहार के उपमुख्यमंत्री तकनीक पसंद हैं। उन्होंने सीतामढ़ी के एक इंजीनियरिंग छात्र को उसकी छात्रवृत्ति दिलाने में सहयोग किया था। इसमें सोशल मीडिया में उनके एक्टिव होना अहम वजह थी। छात्र ने तेजस्वी यादव को फेसबुक पर संदेश भेजकर छात्रवृत्ति नहीं मिलने की शिकायत की थी। इसके बाद तेजस्वी यादव ने खुद संबंधित अधिकारियों से बात की और छात्र की मदद की।