BREAKING: तेजस के चोरों पर ये बड़ी कार्रवाई करेगी रेलवे

नई दिल्ली (27 मई): रेलवे ने तेजस में चोरी हुए हेडफोन और एलईडी को लेकर कड़ी कार्रवाई करने का मन बनाया है। इसके लिए तेजस मे लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला जा रहा है और पता लगाया जा रहा है कि इस तरह की घटना को किन लोगों ने अंजाद दिया।


इसके बाद रेलवे ट्रेन में चोरी हुए हेडफोन और एलईडी को नुकसान पहुंचाने वाले यात्रियों से जुर्माना वसूलेगी। मुंबई से गोवा के बीच 22 मई से सुफऱ फास्ट तेजस की शुरुआत हुई है। जिसमें यात्रियों ने बड़े पैमाने पर रेल से एलईडी और हेडफोन चोरी किए।


आपको बता दें कि रेलवे के अधिकारियों ने ऐसी चीजों के नुकसान का अनुमान पहले ही लगा लिया था, लेकिन अनुमान से ज्यादा हुए नुकसान ने उन्हें हैरान कर दिया है। तेजस एक्सप्रेस में ऐसी कई खूबियां हैं जो आमतौर पर एयरलाइंस में देखने को मिलती हैं। सफर को आरामदायक बनाने के एक्जीक्युटिव क्लास में हाईक्वालिटी कुर्सियां लगी हैं। सफर में मनोरंजन के लिए कुर्सियों के सामने एलईडी स्क्रीन भी लगी है, जिसमें मूवी देखने, गेम खेलने के इंतजाम हैं। एक बटन दबाकर आप ट्रेन के अटेंडेंट को बुला सकते हैं, ऐसी सुविधा विमान में ही होती है। कोच में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगे हैं।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह ट्रेन सप्ताह में 5 दिन चलेगी जबकि मानसून के दौरान यह ट्रेन सप्ताह में तीन दिन ही चलेगी। यह ट्रेन सुबह 5 बजे मुंबई से चलती है और दोपहर के 1.30 बजे तक गोवा पहुंच जाती है। गोवा से इसके चलने का समय दोपहर के 2.30 बजे है और रात के 11.30 बजे मुंबई पहुंचने का समय है।