पाकिस्तान का सबसे बड़ा झूठ बेनकाब, आतंकी हाफिज सईद की जान बचाने के लिए किया नजरबंद...

डॉ. संदीप कोहली,

नई दिल्ली (2 फरवरी): दुनिया के सामने अपने झूठ को सच का मुखौटा पहनाने वाला पाकिस्तान एक बार फिर पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हुआ है... मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के खिलाफ पाकिस्तान का एक्शन मात्र दिखावा है... जी हां मात्र दिखावा... और यह बात और कोई नहीं बल्कि पाकिस्‍तान के ही पॉलिटिकल एक्सपर्ट कह रहे हैं... पाकिस्तान के पॉलिटिकल एक्सपर्ट ने ही नवाज शरीफ सरकार और पाकिस्तानी सेना का प्लान बेनकाब कर दिया है... प्लान आतंकी सईद की जान बचाने का... पाकिस्तान सरकार ने आतंकी हाफिज सईद को किसी बाहरी दबाव के कारण नजरबंद नहीं किया बल्कि तहरीक-ए-तालिबान के खौफ से बचाने के लिए उसको छिपाया है... तहरीक-ए-तालिबान ने हाफिज सईद को पाकिस्तान में मारने का बड़ा प्लान बनाया है... अब सवाल उठेगा कि तहरीक-ए-तालिबान जो खुद एक आतंकी संगठन है वो आतंकी हाफिज सईद को क्यों मारना चाहता है... इसका जवाब हम आपको देते हैं साथ ही हम बताते हैं कि पाकिस्तान के पॉलिटिकल एक्सपर्ट ने क्या उठाए हैं नवाज सरकार पर सवाल-

आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान आतंकी हाफिज को क्यों मारना चाहता है...

    *तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान का एक आतंकी संगठन है जो वजीरिस्तान में सक्रिय है।

    *इस आतंकी संगठन के खिलाफ पाक सेना ने 22 महीनों से युद्ध छेड़ रखा है।

    *ऑपरेशन 'जर्ब-ए-अज्ब' के तहत अब तक 9500 आतंकी मारे जा चुके हैं।

    *पहले हाफिज सईद ने तालिबान के समर्थन में 'जर्ब-ए-अज्ब' का विरोध किया था।

    *हाफिज सईद ने तालिबान के समर्थन में सरकार के खिलाफ रैलियां की थी।

    *लेकिन बाद में पाकिस्तान में तहरीक-ए-तालिबान के हमले बढ़ने लगे।

    *हाफिज सईद ने तहरीक-ए-तालिबान के खिलाफ फतवा जारी कर दिया।

    *जिससे तहरीक-ए-तालिबान बौखला गया और हाफिज सईद को जान से मारने की धमकी दे दी।

    *फरवरी 2010 में तहरीक-ए-तालिबान ने हाफिज सईद को मारने के लिए सुसाइड बम भेजा।

    *मुजफ्फराबाद में हुए इसे हमले में हाफिज सईद बाल-बाल बच गया।

हाफिज सईद को Z+ लेवल की सिक्योरिटी दी है पाकिस्तान ने...

    *पाकिस्तान सरकार ने 2010 के बाद से हाफिज सईद की सरकारी सुरक्षा और बढ़ा दी।

    *आतंकी हाफिज सईद का लाहौर के चौबुर्जी में आलिशान बंगला है।

    *हाफिज के पास महंगी-महंगी लग्जरी गाड़ियां और बड़े-बड़े घोड़ों के अस्तबल हैं।

    *पाक सरकार ने हाफिज के घर की सुरक्षा Z+ कैटेगरी के लेवल की बना रखी है।

    *उसके घर के 300 मीटर दूर चार बैरीकेड लगाए गए हैं।

    *वहां पाकिस्तान पंजाब पुलिस के 48 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं।

    *इसके अलावा लश्कर के 50 आतंकी 24 घंटे उसके साथ साए की तरह चिपके रहते हैं।

देखिए कैसे लाहौर में कड़ी सुरक्षा के बीच रहता है आतंकी हाफिज सईद...

आतंकी हाफिज पर पाकिस्तान के झूठ का खुलासा कैसे हुआ...

    *पाकिस्‍तान के इस झूठ का खुलासा वहां के एक राजनीतिज्ञ विशेषज्ञ डॉ. शाहिद मसूद ने किया है।

    *पाकिस्तान के एक न्‍यूज चैनल BOL टीवी पर डॉ. शाहिद मसूद ने यह खुलासा किया है।

    *हाफिज सईद को उसके घर में नजरबंद किया गया क्‍योंकि उसे टीटीपी से खतरा है।

    *टीटीपी यानी तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान जिसने हाफिज को मारने की कसम ली है।

    *डॉ.मसूद के मुताबिक टीटीपी ने अपने लड़कों को हाफिज सईद को मारने के लिए पाक भेजा है।

    *संगठन के स्‍लीपर सेल्‍स इस समय सिंध और पंजाब में ऑपरेट कर रहे हैं,

    *स्‍लीपर सेल्‍स का मकसद हाफिद सईद को निशाना बनाना है।

    *अफगानिस्‍तान से आईं कुछ कॉल्‍स और मैसेज को पाक की एजेंसियों ने इंटरसेप्‍ट किया है।

    *इनके जरिए टीटीपी की साजिश के बारे में जानकारी मिली है और यही वजह है कि उसे नजरबंद किया गया है।

    *डॉ. मसूद के मुताबिक इस समय सईद की सुरक्षा व्‍यवस्‍था काफी कड़ी कर दी गई है।

    *हाफिज सईद के अलावा जेयूडी के चार और लीडर्स को नजरबंद किया गया है।

देखिए क्या कहना है डॉ. शाहिद मसूद का...

कैसे हुआ आतंकी हाफिज सईद नजरबंद... पाकिस्तानी न्यूज चैनलों के मुताबिक कल शाम बड़ी संख्या में पुलिस बलों ने लाहौर की मस्जिद-ए-कदसिया चौबुरजी को घेर लिया, मस्जिद में उस वक्त आतंकी हाफिज सईद मौजूद था। वहां से उसे सुरक्षा के बीच जौहर टाउन स्थित उसके आवास ले जाया गया। जहां उसको नजरबंद रखा गया है। नजरबंद होने के बाद आतंकी हाफिज सईद ने एक वीडियो संदेश भी जारी किया। हाफिज सईद के प्रवक्ता अहमद नदीम पाकिस्तानी न्यूज चैनलों को बताया है कि यह कार्यवाही पंजाब के गृह विभाग ने कही है। सईद के आवास को उप-कारागार घोषित कर दिया गया है। पाकिस्तान पंजाब के गृह विभाग के निर्देश पर लाहौर में जमात-उद-दावा के मुख्यालय पर से उसका झंड़ा उतार कर पाकिस्तान का ध्वज फहरा दिया गया है।

पाकिस्तान के गृहमंत्री चौधरी निसार अली खान ने हाफिज पर क्या कहा... निसार अली खान ने कल हाफिज की नजरबंदी की से पहले प्रेस कॉफ्रेंस कर कहा था कि हाफिज सईद अमेरिका द्वारा घोषित आतंकी है, पाक सईद पर 2010 से ही नजर रखा है। जमात-उद-दावा साफ तौर पर एक प्रतिबंधित संगठन है, यूएन सुरक्षा परिषद ने भी उसे बैन कर रखा है। इसीलिए पाकिस्तान सरकार को उसके खिलाफ एक्शन लेना ही होगा। चौधरी निसार अली खान के इस बयान के कुछ देर बाद ही आतंकी हाफिज सईद को नजरबंद कर लिया गया।

कौन है आतंक का सरगना हाफिज सईद...

    * पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का मुखिया है हाफिज सईद।

    * अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रतिबंधित संगठन जमात-उद-दावा का प्रमुख है हाफिज।

    * अमेरिका ने दुनिया में 'आंतकवाद के लिए जिम्मेदार' लोगों की सूची जारी की है।

    * इस सूची में हाफ़िज़ सईद को दूसरे स्थान पर रखा गया है।

    * सूची में तालिबान प्रमुख मुल्ला उमर अलकायदा प्रमुख अल जवाहिरी शामिल हैं।

    * मुंबई 26/11 आतंकी हमले का आरोपी है हाफिज सईद।

    * अमेरिका ने एक करोड़ डॉलर के इनाम की घोषणा कर रखी है इस आतंकी पर।

    * पाकिस्तान सरकार के समर्थन से भारत के खिलाफ लगातार जहर उगलता रहा है हाफिज।

    * मुंबई हमलों के बाद अंतरराष्ट्रीय दबाव को देखते हुए छह महीने तक नजरबंद रखा गया था।

    * लेकिन लाहौर हाई कोर्ट के आदेश के बाद उसे 2009 में रिहा कर दिया गया।

    * भारत सरकार ने 2003, 2005 और 2008 में हुए आतंकवादी हमलों के लिए दोषी माना है।

    * हाफिज सईद ने कश्मीरियों की 'मदद' के नाम पर पैसों की उगाही करता है पाकिस्तान में।

    * जमात-उद-दावा से जुड़ा फलाह-ए-इंसानियत नाम के संगठन के जरिए की जाती है उगाही।

    * आतंकी सरगना ने पूरे पाकिस्तान में चंदा जुटाने के लिए कैंप स्थापित कर रखे हैं।

    *  इसके अलावा हाफिज सईद तस्करी, ड्रग्स और मांस के निर्यात से आतंक के लिए पैसे जुटाता है।

    * एक अनुमान के मुताबिक आतंक के सरगना ने 400 करोड़ की सम्पत्ति बना ली है।

    * 2013 में पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की सरकार ने हाफिज के संगठन को 60 करोड़ का अनुदान दिया था।

    * इस पैसे का इस्तेमाल लश्कर के आतंकियों को ट्रेन करने और भारत में दहशतगर्दी फैलाने के लिए करता है।