सुल्तान: युवती ने पुरुष चैंपियन पहलवान को दी पटखनी

नई दिल्ली(11 अक्टूबर): उत्तर प्रदेश के  बरेली में 18 साल की एक पहलवान ने सिर्फ 5 मिनट में ही पुरुष पहलवान को पछाड़ दिया। लखनऊ से आए पुरुष चैंपियन पहलवान नवाब को देहरादून की नेहा ने पलक झपकते ही नवाब ढेर कर दिया।

- ऐसा पहली बार नहीं है जब नेहा ने पुरुष पहलवान को पटखनी दी है। दो साल पहले भी नेहा ने एक और चैंपियन को चित किया था। स्थानीय लोग अब नेहा को अखाड़े की 'असली सुल्तान' कहने लगे हैं।

- सोमवार को जोगी नवादा इलाके में दूसरी बार पुरुष और महिला पहलवानों के बीच मुकाबला था। पहली बार 2014 में ऐसा मुकाबला हुआ था तो नेह ने रुद्रपुर उत्तराखंड के सोनू पहलवान को पटखनी दी थी।

- कुश्ती मुकाबले का आयोजन करने वाली श्री रामलीला परिषद जोगी नवादा के अध्यक्ष सुरेश राठौड़ ने कहा, 'रविवार को नेहा ने अखाड़े में आए सभी पुरुष पहलवानों को कुश्ती की चुनौती दी थी। दो मिनट के लिए मेले में सन्नाटा छा गया फिर इसके बाद मेला तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज गया।'

- सिर्फ नवाब ने उस चुनौती को स्वीकार किया। महिला पहलवानों ने धीर-धीरे अपना मुकाम बना लिया है। राठौड़ ने कहा कि हम 1972 से यहां कुश्ती मुकाबलों का आयोजन करवा रहे हैं। महिला कुश्ती भी पिछले 12 साल से आयोजित की जा रही है लेकिन नेहा पहली महिला पहलवान हैं जिन्होंने पुरुषों को अखाड़े में चुनौती दी है।

- इन दोनों पहलवानों की कद-काठी में भी काफी अंतर था। नेहा का कद जहां 5 फुट था वहीं नवाब उनसे 6 इंच अधिक लंबा था। दोनों का वजन हालांकि 58 किलो ही था। जैसे ही 18 साल की नेहा ने नवाब पर बढ़त बनाई दर्शकों, जिनमें अधिकतर पुरुष थे, ने 'सुल्तान नेहा' की हौसलाअफजाई करनी शुरू कर दी। जीत के बाद नेहा ने एक बार फिर पुरुष और महिला पहलवानों को अखाड़े के लिए ललकारा। इस बार दिल्ली के हारून ने चुनौती को स्वीकार किया है। यह मुकाबला मंगलवार को होगा। जो इस कुश्ती मुकाबले का आखिरी दिन है।