दो साल पुराना फोन बना देवदूत, बचाई 20 लोगों की जान

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(23 जुलाई): जागो राखे साइयां मार सके न कोए, ये कहावत इन 20 लोगों पर बिल्कुल 100 फीसदी सच बैठती है। मौत के मुंह में डूबते हुए इन लोगों के लिए सैमसंग का दो साल पुराना फोन किसी देवदूत बन गया। असल में पूरा मामला ये है कि 20 लोग नाव पर सवार होकर जा रहे थे कि तभी बीच में नाव पलट गई। नाव में सवार ज्यादातर लोगों के फोन भींग गए और उन्होंने काम करना बंद कर दिया। अच्छी बात यह रही कि एक व्यक्ति का फोन पानी में भींगने के बावजूद काम कर रहा था। इस फोन के कारण बचाव दल को नाव पलटने के कारण फंसे 20 लोगों तक पहुंचने और उन्हें बचाने में मदद मिली। यह मामला फिलीपींस का है।

जब एक नाव 16 विदेशी और चार फिलीपीनी नागरिकों को एक आईलैंड पर लेकर जा रही थी। नाव पलटने के बाद इस फोन से मदद मांगी गई और जीपीएस के माध्यम से लोकेशन साझा किया गया. एम्डी ने बताया। उस मुश्किल हालात में केवल मेरा सैमसंग गैलेक्सी S8 स्मार्टफोन काम कर रहा था, इसकी मदद से हम बचाव दल के साथ कनेक्ट हुए और हमारे सुरक्षित पहुंचने तक यह काम करता रहा। यह स्मार्टफोन हमारी उम्मीदों से कहीं ज्यादा चला।

पानी में भीगने के बाद भी काम करता रहा ये सैमसंग का फोन

मुश्किल में फंसे लोगों को दो साल पुराने सैमसंग गैलेक्सी S8 स्मार्टफोन की मदद से बचाया गया। हालांकि, इस स्मार्टफोन में खास SOS फीचर नहीं दिया गया है, लेकिन यह IP68 वाटर रेसिस्टेंट स्मार्टफोन है। जिसकी वजह से पानी में भींगने के बावजूद यह स्मार्टफोन ठीक ढंग से काम करता रहा। नाव में 16 विदेशी और 4 लोग फिलीपींस के थे। यह सभी एक आइसलैंड पर जा रहे थे कि अचानक नाव पलट गई।

GPS फंक्शन से शेयर की अपनी लोकेशन

सैमसंग गैलेक्सी S8 स्मार्टफोन कनाडा के रहने वाले जिम इम्डी का था। फंसे हुए लोगों ने इस स्मार्टफोन के जरिए मदद मांगी और स्मार्टफोन के GPS फंक्शन से बचाव दल को अपनी लोकेशन साझा की। इम्डी ने बताया, 'उस मुश्किल हालात में केवल मेरा सैमसंग गैलेक्सी S8 स्मार्टफोन काम कर रहा था। इसकी मदद से हम बचाव दल के साथ कनेक्ट हुए और हमारे सुरक्षित पहुंचने तक यह काम करता रहा। यह स्मार्टफोन हमारी उम्मीदों से कहीं ज्यादा चला।' इसी तरह के एक घटनाक्रम में एक iPhone ने जापान के ओकिनावा तट पर आठ लोगों की जान बचाई थी।