नेहरा के लिए इस बल्लेबाज को गेंदबाजी करना था सबसे मुश्किल, बताया-अलग ही ग्रह का

नई दिल्ली(10 नवंबर): हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने कहा है कि अॉस्ट्रेलिया के दिग्गज विकेटकीपर रहे एडम गिलक्रिस्ट को गेंदबाजी करना सबसे मुश्किल था। 

- 'लाइव मिंट' से खास बातचीत में पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि उन्हें गिलक्रिस्ट दूसरे ग्रह के प्राणी लगते थे और उन्हें गेंदबाजी करना मुझे सबसे मुश्किल लगता था। 

- उन्होंने कहा, 2000 के दौर की अॉस्ट्रेलियाई टीम और एडम गिलक्रिस्ट का लेवल अलग ही था। 2002-08 तक गिलक्रिस्ट अलग ही ग्रह पर थे। जैक कैलिस, रिकी पॉन्टिंग, ब्रायन लारा और वीरेंद्र सहवाग भी शानदार खिलाड़ी थे। 

कोहली की भी की तारीफ

विराट कोहली की तारीफ के पुल बांधते हुए नेहरा ने कहा कि उसमें रातों-रात बदलाव नहीं आया है। अपने शरीर में परिवर्तन लाने के लिए उसे 3-4 साल लगे हैं। उसकी रफ्तार चौंकाने वाली है। अगर मैदान में वह टेनिस बॉल से खेलता है तो भी उसकी तीव्रता वही रहेगी। नेहरा ने बातचीत में यह भी कहा कि 2011 का वर्ल्ड कप जीतना बेहद खास क्षण था। दुर्भाग्यवश वह चोट के कारण फाइनल में नहीं खेल पाए थे, क्योंकि पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल में उन्हें चोट लग गई थी।